Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजनाः पहले 40 दिनों में 10 लाख गोल्डन कार्ड किए जारी, 10 हजार हुए उपचार

जम्मूः जम्मू-कश्मीर सरकार ने शुक्रवार को कहा कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी-पीएमजेएवाई) सेहत स्कीम के लॉन्च के बाद पहले 40 दिनों में इस क्षेत्र में कम से कम 10.77 लाख स्वर्ण कार्ड के साथ 10,000 उपचार किए गए हैं। इस योजना को 26 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉन्च किया था। योजना के रोल आउट के बाद से, योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को पहले 40 दिनों में 7.21 करोड़ रुपये के 10,000 मुफ्त और कैशलेस उपचार (ट्रीटमेंट) प्रदान किए गए हैं।

इसके अलावा एबी-पीएमजेएवाई सेहत योजना के तहत जारी किए गए 12.90 लाख स्वर्ण काडरें के अलावा 10.77 लाख स्वर्ण (गोल्डन) कार्ड जारी किए गए हैं। स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, वित्तीय आयुक्त, अटल डुल्लो ने कहा, ‘‘एबी-पीएमजेएवाई सेहत योजना यूनिवर्सल हेल्थ इंश्योरेंस की दिशा में एक ऐतिहासिक कदम है। हमने एक विनम्र शुरूआत की है, लेकिन अभी एक लंबा रास्ता तय करना है। जम्मू एवं कश्मीर के प्रतिष्ठित अस्पतालों से मुक्त और कैशलेस लाभ प्राप्त करने वाले निवासियों को देखकर खुशी होती है।’’

उन्होंने आगे कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर के निवासियों ने पहले ही यूटी (केंद्र शासित प्रदेश) के बाहर प्रतिष्ठित अस्पतालों से इस योजना के तहत लाभ उठाना शुरू कर दिया है।’’ उन्होंने कहा कि योजना के शुभारंभ के बाद से, 155 मरीजों ने एबी-पीएमजेएवाई सेहत योजना की पोर्टेबिलिटी सुविधा का उपयोग करके जम्मू-कश्मीर के बाहर के अस्पतालों में लाभ उठाया है। सरकार द्वारा शुरू की गई एबी-पीएमजेएवाई सेहत योजना में जम्मू-कश्मीर के सभी निवासियों को शामिल किया गया है, जिसमें कर्मचारियों और पेंशनरों के साथ-साथ उनके परिवार के सदस्य भी शामिल हैं। इस योजना के अंतर्गत प्रति परिवार 5 लाख रुपये का यूनिवर्सल हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज मिलता है। एबी-पीएमजेएवाई सेहत को एबी-पीएमजेएवाई के समान लाभ उपलब्ध हैं।

मालूम हो कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना सरकार की ओर से पूरी तरह से वित्त पोषित दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है। इसमें देशभर के सरकारी और निजी अस्पतालों में इलाज के लिए भर्ती होने वाले हर परिवार को सालाना 5 लाख रुपये का कवर मिलता है। यह 5 लाख रुपये का लाभ फैमिली फ्लोटर बेसिस पर मिलता है। जिसका अर्थ है कि इसका उपयोग परिवार के एक या सभी सदस्यों कर सकते हैं। इस योजना के तहत जम्मू कश्मीर के नागरिकों को देशभर के 24 हजार से अधिक अस्पतालों में पोर्टेबिलिटी के तहत बीमा की सुविधा मिलेगी। यह योजना जम्मू एवं कश्मीर के सभी निवासियों को चिकित्सा उपचार पर खर्च को कम करने में मदद करती है।




























Live TV

Breaking News

Loading ...