UK Lockdown

ब्रिटेन में 2 दिसंबर को लॉकडाउन समाप्त होने के साथ कड़े चरणबद्ध कदमों की तैयारी

लंदन: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन सोमवार को एक संबोधन के जरिये देश में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए ‘कोविड शीतकालीन योजना’ की घोषणा कर सकते हैं जिसमें औपचारिक रूप से दो दिसंबर को लॉकडाउन समाप्त होने के बाद कुछ सख्त चरणबद्ध कदमों की उम्मीद है। डाउनिंग  स्ट्रीट ने कहा कि और अधिक क्षेत्रों को आवाजाही तथा घरों पर रहने संबंधी पाबंदियों के कठिन स्तर में रखा जा सकता है।

ब्रिटेन में करीब एक महीने के लॉकडाउन से पहले क्षेत्रों में संक्रमण की दर के आधार पर अलग-अलग सामाजिक दूरी संबंधी नियमों की तीन स्तरीय प्रणाली बनाई गई थी। सरकार का आपातकाल के लिए वैज्ञनिक सलाहकार समूह सोमवार को अपने निष्कर्ष जारी कर सकता है और उसका कहना है कि पिछले चरणों में किये गये उपाय पर्याप्त सख्त नहीं थे।

कोविड शीतकालीन योजना पर और ज्यादा जानकारी सोमवार को हाउस ऑफ कॉमन्स में प्रधानमंत्री के भाषण में सामने आ सकती है। इससे पहले कैबिनेट रविवार को इस बारे में विचार करेगी जिसमें जॉनसन डिजिटल तरीके से भाग ले सकते हैं क्योंकि वह संक्रमित पाये गये एक सांसद से संपर्क में आने के बाद से स्व पृथक-वास में हैं।

ब्रिटिश मीडिया की कुछ खबरों में कहा गया है कि जॉनसन क्रिसमस पर कोविड-19 की पाबंदियों से एक हफ्ते तक की छूट दे सकते हैं और यह छूट स्कॉटलैंड, वेल्स तथा नदर्न आयरलैंड की अवक्रमित (डिवॉल्व्ड) सरकारों के साथ समझौते पर निर्भर करेगी।

इसमें 22 से 28 दिसंबर तक पूरे ब्रिटेन में नियमों में छूट के आसार हैं ताकि कई परिवार 25 दिसंबर को क्रिसमस मना सकें। डाउनिंग स्ट्रीट के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘मौजूदा राष्ट्रीय पाबंदियों के दौरान सभी के प्रयासों ने वायरस को काबू में लाने में, उसके प्रसार को धीमा करने और एनएचएस पर दबाव बनाने में मदद की है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन प्रधानमंत्री और उनके वैज्ञनिक सलाहकारों का स्पष्ट मानना है कि वायरस का प्रकोप अब भी है और टीका आने से पहले क्षेत्रीय पाबंदियों के बिना यह नियंत्रण से बाहर जा सकता है।’’ 

 जॉनसन ने 31 अक्टूबर को इंग्लैंड के लिए घरों में रहने के नये नियमों की घोषणा की थी कि इंग्लैंड में पांच नवंबर से कम से कम दो दिसंबर तक प्रतिबंध लागू रहेंगे। ब्रिटेन में कोविड-19 संक्रमण के नए मामलों की संख्या में पिछले सात दिन में गिरावट आई है। इसमें पिछले सप्ताह की तुलना में इस सप्ताह 13.8 प्रतिशत कमी आई है।