eyes care, summer care tips

गर्मियों में अपनी आंखों का इस तरह करें बचाव के ना आए आपको मुसीबतें बार-बार

गर्मियों का मौसम गर्मी के साथ-साथ ढेरों मुसीबतें भी लाता है, जिन में स एक है आंखों में एलर्जी होने की। जी हां, गर्मी की वजह से आंखे लाल हो जाती हैं और उसमें जलन और पानी आने की शिकायत होने लगती है। यही नहीं बल्कि कई लोगों को तो धूप से आंखों में एलर्जी, कंजक्टिवाइटिस, आंखों में ड्राईनेस और आंख की फुंसी यानि गुहेरी जैसी समस्याएं भी होने लगती हैं। ऐसे में इन सब से निजात पाने के लिए आज हम आपके लिए कुछ खास टिप्स लेकर आए हैं जो आपको गर्मियों में आंखों की एलर्जी की शिकायत दूर हो जाएगी। 

पानी के छींटे मारें: जब भी आप बाहर से घर आते हैं, तो शरीर का तापमान बढ़ जाता है। सबसे पहले आराम से बैठ जाएं और शरीर को नार्मल तापमान में आने दें। एसी की बजाय पंखे के नीचे बैठें। उसके बाद ही ठंडे पानी से आंखों को धोएं। आंखों पर ठंडे पानी के छींटे मारने के बाद तौलिये से चेहरा पोछ लें। 

सनग्लास लगाएं: जब भी घर से बहार निकले तो इस बात का दयँ रखे की सनग्लास जरूर लगाए । साथ ही यह भी ध्यान रखें कि आपके द्वारा चुने गए धूप के चश्मे यूवी प्रोटेक्शन युक्त हों। चश्मे खरीदने में बिल्कुल भी कंजूसी न करें। सड़क पर बिकने वाले सामान्य चश्मे लेने की बजाय ऐसा चश्मा लें जो कि आपकी आंखों की वाकई सुरक्षा कर सके।

आँखों को रेस्ट दे: गर्मियों में आंखों को आराम देने के लिए अच्छी और भरपूर नींद लेना बहुत जरूरी है क्योंकि दिन पर कंम्प्यूटर पर काम करने के बाद आंखे बुरी तरह से थक जाती है। इसलिए रोजाना कम से कम 7-8 घंटे की नींद जरूर लें। इसके अलावा आंखों को आराम देने के लिए बादाम के तेल की मसाज भी करें। मसाज से आंखों में ब्लड सर्कुलेशन तेज होता और उन्हें आराम मिलता है। इसके अलावा बादाम के तेल में मौजूद विटामिन ई आंखों की सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। दिन में कम से कम 1 बार आंखों की मसाज जरूर करें।

स्वीमिंग गॉगल्स: गर्मियों में लोग स्वीमिंग को व्यायाम की तरह करना पसंद करते हैं। लेकिन पानी से भरे पूल में छलांग लगाते समय आँखों की सुरक्षा को न भूलें। पूल के पानी में मौजूद क्लोरीन की मात्रा आँखों में लाली और खुजली की वजह बन सकती है इसलिए स्वीमिंग के दौरान अच्छी फिटिंग वाले गॉगल्स पहनें। 

एसी में आंखों की केयर: गर्मी के दिनों में एसी में ज्यादा देर बैठने से आंखों में ड्राइनेस आ जाती है। ऐसे में बहुत ज्यादा देर एसी में बैठने से बचें। 



Live TV

Breaking News

Loading ...