Snowfall, Himachal, increases people problems

हिमाचल में हिमपात ने बढ़ाई ऊंचाई वाले इलाकों में रहने वालों की मुसीबतें

शिमलाः हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में कल हुई बर्फबारी के बाद पूरे प्रदेश में कड़ाके की ठंड बढ़ गई है जिससे अधिकांश क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे या आसपास दर्ज किया गया। लाहुल स्पीति के जिला मुख्यालय केलांग में न्यूनतम पारा शून्य से कम 13.1 डिग्री तक लुढ़क गया। शिमला, कुल्लू, लाहौल-स्पीति और किन्नौर जिलों का पारा शून्य से नीचे चला गया। राजधानी शिमला में सुबह से आसमान पर हल्के बादल छाये रहे और दिन भी ठंडी हवाएं चली। शहर के दिन के पारे में चार डिग्री की कमी आई है। मौसम विभाग के मुताबिक आज से 1 फरवरी तक समूचे प्रदेश में बारिश और बर्फबारी होने का पूर्वानुमान नहीं है।
      
बीते 24 घंटों के प्रदेश में एक दो स्थानों पर बारिश हुई। किन्नौर जिले के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से कम तीन डिग्री मनाली में भी न्यूनतम पारा शून्य से कम एक डिग्री रहा। कुफरी में 0.8 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक डॉ. मनमोहन सिंह ने बताया कि प्रदेश में 31 जनवरी तक मौसम साफ रहेगा। किसी भी क्षेत्र में एक सप्ताह तक बारिश और बर्फबारी होने का पूर्वानुमान नहीं है। दो फरवरी से फिर पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम के करवट लेने की संभावना है। राज्य के तीन शहरों का न्यूनतम तापमान माइनस में दर्ज किया गया। अन्य शहरों में न्यूनतम तापमान इस प्रकार रहा। शिमला में 2.8, सुंदरनगर में 1.5, भुंतर में 1.8, सोलन और धर्मशाला में 2.2, उना में 5.4, नाहन में 9.3, पालमपुर 3.0, कांगड़ा में 3.6, मंडी में 3.1, बिलासपुर में 8.2, हमीरपुर में 7.7 डलहौजी 2.0 और चंबा में 2.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।
 



Live TV

-->

Loading ...