Chinese

चीनी अर्थव्यवस्था की स्थिरता विश्व आर्थिक विकास के लिए लाभदायक

चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा (एनपीसी) का वार्षिक सम्मेलन28 मई को समाप्त हुआ। समापन समारोह के बाद चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने करीब दो घंटों में संवाददाताओं के 11 सवालों के जवाब दिए।\ उन्होंने चीन में आर्थिक विकास, खुलेपन और सहयोग आदि विषयों की चर्चा की और पूर्व निर्धारित लक्ष्य हासिल करने में चीन का दृढ़ विश्वास जताया। संवाददाता सम्मेलन में ली खछ्यांग ने रोजगार, नागरिक जीवन और उद्यमों में मौजूद समस्या दूर करने और बाजार की जीवन शक्ति बढ़ाने में चीन सरकार के कदम का परिचय दिया। इन कदमों से न सिर्फ चीन में अर्थव्यवस्था के स्थिर विकास का आधार मजबूत किया गया, बल्कि दुनिया को गरीबी उन्मूलन में चीन का दृढ़ संकल्प भी दिखाया गया। कई वर्षों से विश्व अर्थव्यवस्था में चीन का योगदान 30 प्रतिशत से अधिक रहा। महामारी के प्रभाव में चीनी अर्थव्यवस्था स्थिर बनी रहती है, वास्तव में यह दुनिया के लिए योगदान ही है। संवाददाता सम्मेलन में ली खछ्यांग ने कहा कि चीन दृढ़ता से खुलेपन को बढ़ावा देता रहेगा, लगातार दुनिया के साथ सहयोग का विस्तार करेगा और खुलेपन में अधिक कदम उठाएगा। इससे चीन का जिम्मेदार और दायित्व दिखाया गया। ली खछ्यांग ने कहा कि अब अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सामने दोहरी चुनौती मौजूद है। चाहे महामारी की रोकथाम हो, या आर्थिक विकास, विभिन्न देशों को सहयोग करना चाहिए। चीन के वर्तमान संसदीय सत्र में चीन सरकार ने सिलसिलेवार कदम उठाए, जिससे जनता को प्राथमिकता देने की विचारधारा प्रतिबिंबित हुई। इससे न सिर्फ चीन का कठिनाई को दूर करने का उत्साह बढ़ाया गया, बल्कि विश्व आर्थिक बहाली का विश्वास भी मजबूत हुआ है।

(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)