Strong trade , British Minister

ब्रिटेन-भारत के बीच मुक्त व्यापार समझौता की दिशा में मजबूत व्यापार भागीदारी पहला कदम: ब्रिटिश मंत्री

लंदन : ब्रिटेन और भारत मजबूत व्यापार भागीदारी को लेकर प्रतिबद्ध हैं क्योंकि भविष्य में होने वाले मुक्त व्यापार समझौता (एफटीए) की दिशा में यह पहला कदम है। ब्रिटेन के दक्षिण एशिया मामलों के मंत्री लार्ड तारीक अहमद ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की इस साल भारत यात्र के दौरान इसे और औपचारिक रूप देने की योजना है। विदेश, राष्ट्रमंडल और विकास कार्यालय में राष्ट्रमंडल मामलों की भी जिम्मेदारी संभाल रहे अहमद ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ अभियान में टीके के क्षेत्र में सहयोग के साथ दोनों देशों के बीच मजबूत रिश्तें और प्रगाढ़ होंगे। भारत के 72वें गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान अहमद ने कहा, ‘‘हम व्यापार से जुड़ी बाधाओं को दूर करने के लिये कदम उठाते रहे हैं। हमें उम्मीद है कि भारत के साथ मजबूत व्यापार भागीदारी भविष्य में एफटीए तक ले जाएगा।’’उन्होंने कहा, ‘‘हमारा अंतिम लक्षय़ एफटीए है और इस दिशा में पहला कदम उन उपायों में शामिल होने की संभावना है जिसकी घोषणा प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की इस साल भारत यात्र के दौरान की जाएगी।’’ मंत्री ने संकेत दिया कि दोनों देशों की कंपनियों के बीच रिश्तों को सुदृढ़ करने के लिये कई व्यवहारिक कदम उठाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसके साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने में पेशेवरों के मामले में भागीदारी महत्वपूर्ण होगी। इसके तहत दोनों देशों के कुशल पेशेवरों और छात्रों की आवाजाही एक-दूसरे के देशों में आसानी से हो सकेगी। 
मंत्री ने कहा, ‘‘भारत एक रणीतिक भागीदार है और हम राष्ट्रमंडल के अंतर्गत साथ मिलकर काम करने को लेकर काफी इच्छुक हैं..।’’  



Live TV

Breaking News


Loading ...