Sujata Chaudhary, bapu aur stree

सुजाता चौधरी ने किया 'बापू और स्त्री' नामक फिल्म का निर्माण, गांधी जयंती पर प्रोमो होगा लॉन्च

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर अब तक अनेक फिल्में बनी हैं लेकिन बिहार की प्रसिद्ध गांधीवादी कार्यकर्ता और लेखिका सुजाता चौधरी ने 'बापू और स्त्री' नामक एक फिल्म बनाई है। कल गांधी जयंती पर इस फिल्म का प्रोमो सोशल मीडिया पर लॉन्च होगा। महात्मा गांधी पर कई किताबें लिखने वाली श्रीमती चौधरी ने गुरुवार को यूनीवार्ता को बताया कि उन्होंने 55 मिनट की एक फिल्म का निर्माण किया है जिसमें स्त्रियों के बारे में महात्मा गांधी के विचारों और संदेशों को दिखाया गया है और यह दिखाया गया है कि गांधी जी का सपना देश को गुलामी से मुक्त कराने के साथ-साथ स्त्रियों को भी पुरुषों की गुलामी से मुक्त कराना था।

भागलपुर में कार्यरत सुश्री चौधरी ने रासबिहारी फिल्म्स के बैनर तले इस फिल्म का निर्माण किया है। फिल्म का निर्देशन भारतेन्दु नाट्य अकादमी से पास आउट भागलपुर के ही रितेश रंजन ने किया है। बापू के मुख्य किरदार में दिल्ली के अभिनेता कैसर एन. के. जानी और बा के किरदार में छत्तीसगढ़ की अभिनेत्री अनुराधा दुबे ने अभिनय किया है ।फिल्म में अन्य महत्वपूर्ण किरदार की भूमिका भागलपुर के ही इप्टा के कलाकारों ने निभाई है। फिल्म की शूटिंग भागलपुर,बिहार के ही विभिन्न हिस्सों में हुई है और फिल्म एडिटिंग और डबिंग का काम संगम स्टूडियो में किया गया है।

सुश्री चौधरी ने बताया कि इस फिल्म का मुख्य विषय स्रियों को सम्मान और अधिकार दिलाने के लिए महात्मा गांधी जी द्वारा किये गए लंबे संघर्ष को दर्शाना है। साथ ही इस फिल्म को देखने के बाद महिलाओं के प्रति सदियों से चली आ रही कुरीतियों और कुप्रथा के खिलाफ गांधी जी के उच्च विचार और उनके नज़रिए से भी लोगों को रुबरु होने का अवसर मिलेगा। उन्होंने बताया कि फिल्म के ज़रिये महात्मा गांधी जी के सपने -‘’समाज में स्रियों और पुरुषों के बीच समानता‘’को पूरा करने के लिए उनके असाधारण योगदान को दिखाया गया है। उन्होंने बताया कि हम लोग इस फिल्म को देश-विदेश के अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में भेजेंगे। कल इस फिल्म का प्रोमो फेसबुक पर दिखाया जाएगा। कोविड के कारण इसे हम हॉल में नही दिखा पा रहे हैं। छप्पन वर्षीय सुजाता चौधरी ने गांधी और स्त्री, गांधी और नैतिकता, गांधी और चंपारण आन्दोलन तथा इसके नायक राजकुमार शुक्ला पर भी किताबें लिखी हैं।