China, Russia

चीन-रूस सत्तारुढ़ पार्टियों की संवाद प्रणाली की 8वीं बैठक बुलाई गई

23 जुलाई को चीन-रूस सत्तारुढ़ पार्टियों की संवाद प्रणाली की 8वीं बैठक वीडियो के ज़रिए बुलायी गयी। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बैठक को बधाई पत्र भेजा। बैठक की मुख्य थीम है महामारी के बाद की दुनियाः चीन-रूस सत्तारुढ़ पार्टी का सामरिक आदान-प्रदान और सहयोग। चीनी कन्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के अंतरराष्ट्रीय संपर्क विभाग के प्रभारी सोंग थाओ ने कहा कि नयी परिस्थिति में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी रूसी यूनाइटिट रूस पार्टी के साथ सामरिक संपर्क को निरंतर गहरा करेगी, देश के प्रशासन में अनुभवों का आदान प्रदान को मजबूत करेगी और बेल्ट एंड रोड से यूरेशिया आर्थिक संघ के उच्च स्तर सहयोग को आगे बढ़ाएगी, ताकि दोनों देशों और दोनों जनता को लाभ दे सके। चीन रूस के साथ बाहरी शक्तियों के हस्तक्षेप का विरोध करेगा, अपने देश की प्रभुसत्ता की रक्षा, सुरक्षा और विकास हितों की रक्षा करेगा, संयुक्त राष्ट्र संघ आदि संस्थाओं में सहयोग को मजबूत करेगा, बहुपक्षीयवाद पर कायम रहकर मानव साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना को आगे
बढ़ाएगा।

मौके पर यूनाइटिड रूस पार्टी की सर्वोच्च कमेटी के अध्यक्ष ग्रेजनोव ने कहा कि महामारी के बाद रूसी राष्ट्रपति पुतिन और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच घनिष्ठ आवाजाही पर बनाया जाता है, जिससे द्विपक्षीय सामरिक आपसी विश्वास को प्रबल रूप से मजबूत किया गया है। उन की पार्टी चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के साथ मिलकर दोनों देशों के राजाध्यक्षों द्वारा प्राप्त अहम सहमतियों का कार्यान्वयन करेगी और नये युग में रूस-चीन तमाम सामरिक साझेदारी संबंधों की नींव को मजबूत करेगी। रूस चीन के साथ एक दूसरे का समर्थन करेगा, अंतर्राष्ट्रीय मामलों में समन्व्य को मजबूत करेगा, अपने देश की प्रभुसत्ता व हितों की समान रक्षा करेगा, ताकि दोनों देश विश्व शांति व विकास के लिए योगदान प्रदान कर सकें। बैठक में दोनों देशों के प्रतिनिधियों ने महामारी की पृष्ठभूमि में सत्तारुढ़ पार्टी के कर्तव्य और मिशन, देश की सुरक्षा की रक्षा करने, देश की प्रशासन सिस्टम और क्षमता आदि मुद्दों पर विचार विमर्श किया। बैठक में चीन-रूस सत्तारुढ़ पार्टियों की संवाद प्रणाली की 8वीं बैठक की सहमति भी जारी की गयी।