Chinese

चीनी प्रतिनिधि:लोगों का सुखमय जीवन सबसे बड़ा मानव अधिकार है

 स्थानीय समय के अनुसार 16 और 17 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 45वें सम्मेलन में विकास के अधिकार के बारे में विचार-विमर्श किया गया। विकासशील देशों ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से विकास के अधिकार का तेजी से कार्यान्वयन करने की अपील की और संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से विकास के अधिकार के क्षेत्र में निवेश बढ़ाने की मांग भी की।
   
चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि वर्तमान में एकपक्षवाद और संरक्षणवाद फैल रहे हैं, वैश्विक स्तर पर विकास के अधिकार का कार्यान्वयन अपेक्षित स्तर तक नहीं पहुंच पाया है। कोविड-19 महामारी से सामाजिक और आर्थिक विकास पर प्रभाव पड़ता है और विभिन्न देशों के विकास के अधिकार की प्राप्ति को गंभीरता से प्रभावित हो रहा है। विभिन्न देशों को बहुपक्षवाद और अंतरराष्ट्रीय सहयोग का पालन करना चाहिए, लक्षित और समन्वित कार्रवाई करनी चाहिए। ताकि प्रभावी रूप से महामारी को रोका जा सके, स्थायी और समावेशी आर्थिक बहाली और वृद्धि को बढ़ावा दिया जा सके।
   
चीनी प्रतिनिधि ने यह भी कहा कि लोगों का सुखमय जीवन सबसे बड़ा मानव अधिकार है। चीन ने विभिन्न देशों से संयुक्त राष्ट्र के विकास के अधिकार की घोषणा के नेतृत्व करते हुए 2030 अनवरत विकास कार्यसूची पर अमल करने और विकास के अधिकार का कार्यान्वयन करने के लिए प्रयास करने की अपील भी की।
(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)