गिरफ्तार

लाखों की ठगी करने वाला मास्टरमाइंड गिरफ्तार

नौकरी का झांसा देकर लाखों की ठगी करने वाले मास्टरमाइंड को चम्बा पुलिस ने पालमपुर के समीप दबोचकर एक बार फिर अपनी कार्यकुशलता का परिचय दिया है। आरोपी को चम्बा पहुंचाकर सोमवार को न्यायालय में पेश किया गया। माननीय न्यायालय ने उसे पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेजने के आदेश सुनाए हैं। जानकारी के अनुसार अप्रैल 2019 में जिला के उपमंडल चुराह के एक व्यक्ति ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी कि सरोल में रहने वाले एक व्यक्ति ने  नौकरी दिलवाने के नाम पर उसके साथ 30,000 रुपए की ठगी की है। 22 अप्रैल 2019 को पुलिस थाना सदर चम्बा में भारतीय दंड संहिता के तहत मामला दर्ज किया गया। छानबीन के दौरान सामने आया कि उस व्यक्ति ने प्रदेश भर में करीब 100 से अधिक लोगों को इसी प्रकार चूना लगाया है। जिनमें से 23 व्यक्ति अब तक पुलिस में शिकायत भी कर चुके हैं। पुलिस लगातार व्यक्ति की तलाश में जुटी हुई थी। लेकिन शातिर आरोपी न तो एक जगह रहता था और न ही मोबाइल का इस्तेमाल करता था। यहां तक कि वह माननीय उच्च न्यायालय और माननीय सर्वोच्च न्यायालय में जमानत याचिका भी दायर कर चुका था जोकि रद्द हो चुकी थी। इसी बीच पुलिस को आरोपी के पालमपुर में होने की भनक लगी। उपनिरीक्षक कुलदीप की अगुवाई में मुख्य आरक्षी बलविंद्र और आरक्षी अभिषेक के दल ने पालमपुर में दबिश दी और आरोपी को मारुंडा नामक स्थान के पास धर दबोचा। उधर, थाना सदर चम्बा के प्रभारी इंस्पेक्टर सकीनी कपूर ने बताया कि लाखों की ठगी करने वाले आरोपी यशपाल निवासी बिलासपुर को पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। लोगों से अपील की है कि ऐसे शातिरों की झांसे में न आएं और स्वयं को ठगी का शिकार न होने दें।   



Live TV

-->
Loading ...