Tibet

तिब्बत में पर्यटन उद्योग का जोरदार पुनरुत्थान हुआ

कोविड-19 महामारी की वजह से दुनिया भर में पर्यटन उद्योग मंदी में फंस गया, लेकिन इस दौरान “विश्व की छत”पर स्थित तिब्बत में पर्यटन उद्योग का जोरदार पुनरुत्थान साकार हुआ। इस वर्ष की पहली तीन हिमाहियों में तिब्बत स्वायत्त प्रदेश ने 3 करोड़ 20 लाख 10 हज़ार देसी-विदेशी पर्यटकों का सत्कार किया, कुल 33 अरब 49 करोड़ युआन की पर्यटन आय हुई।   

आंकड़ों के मुताबिक, इस वर्ष की पहली छमाही में तिब्बत के पर्यटन बाजार की बहाली देश में अग्रिम स्थान पर रही। पहली अक्तूबर को राष्ट्रीय दिवस की सात दिवसीय छुट्टियों में तिब्बत ने 17 लाख 74 हज़ार छह सौ देसी-विदेशी पर्यटकों को आकर्षित किया, जो गत वर्ष के समान समय की तुलना में 11.45 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इस दौरान 93.5 करोड़ युआन की पर्यटन आय मिली, जिसमें साल 2019 की समान अवधि से 14 प्रतिशत का इजाफा हुआ।

तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के पर्यटन विकास विभाग के प्रधान वांग सोंगफिंग ने कहा कि तिब्बत और नागरिकों के बीच फासला कभी इतना कम नहीं रहा। इस वर्ष तिब्बत में सेल्फ ड्राइविंग टूर वालों की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई। संबंधित पर्यटन सेवा में सुधार आया है। 2019 के अंत तक तिब्बत में एक लाख किलोमीटर के राजमार्गों का निर्माण पूरा किया जा चुका है, राजधानी ल्हासा को केंद्र बनाकर उच्च स्तरीय मार्ग नेटवर्क की स्थापना तेज गति में की जा रही है। आली और छांगतु दोनों प्रिफेक्चरों में हवाई अड्डों का विस्तार किया जा रहा है। गत नवम्बर के शुरु में तिब्बत-स्छ्वान रेल-मार्ग का निर्माण औपचारिक तौर पर शुरु हुआ, वहीं भविष्य में छिंगहाई-तिब्बत रेल-मार्ग का विद्युतीकरण भी किया जाएगा।   

वांग सोंगफिंग के मुताबिक, भविष्य में तिब्बत स्मार्ट पर्यटन का जोरदार विकास करेगा, पर्यटकों की पर्यटन लागत को कम करेगा, पर्यटन की सुविधा को उन्नत करेगा, संस्कृति और पर्यटन के एकीकरण को गहराएगा, हरित व स्वस्थ पर्यटन उद्योग का विकास करेगा। ताकिविश्व की छतको ज्यादा आकर्षक बनाया जा सके और स्थानीय औद्योगिक विकास और नागरिकों की आय में बढ़ोतरी को बढ़ावा दिया जा सके।
( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )


Loading ...