Ghazipur Border, Agricultural Law, Prime Minister Narendra Modi, Rajya Sabha, Rakesh Tikait

PM के MSP वाले बयान पर बोले टिकैत- वो उलझा रहे, हम कानून चाहते हैं

गाजीपुर बॉर्डरः कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन जारी है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को किसानों से आंदोलन समाप्त करने की अपील की। पीएम ने राज्यसभा में कहा कि एमएसपी खत्म नहीं होने वाली है और मंडियां पहले से कहीं ज्यादा आधुनिक बनेंगी। पीएम के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि, "वो उलझा रहे हैं, हमने कब कहा कि एमएसपी खत्म हो रही है, हम एमएसपी पर कानून चाहते हैं।"कानून बनने के बाद देश के किसानों को फायदा होगा। एमएसपी पर कानून न होने की वजह से व्यापारी आधे में लूट लेता है।

उन्होंने कहा कि ये आंदोलन पहले पंजाब का था, फिर जाट, सिख का बना दिया, क्या किसानों में भी छोटा बड़ा किसान होता है? देश का किसान एक है। कोई छोटा बड़ा नहीं, ये छोटे किसानों का ही आंदोलन है। देश मे भूख पर व्यापार नहीं होगा, भूख कितनी लगेगी अनाज की कीमत उतनी होगी, देश में भूख से व्यापार करने वालो को बाहर निकाला जाएगा।टिकैत ने उदाहरण देते हुए कहा कि जिस तरह फ्लाइट की टिकट एक ही दिन में ऊपर नीचे होती है, इसी तरह से अनाज की कीमत भूख पर तय नहीं होगी। किसान आंदोलन खत्म करने की पीएम मोदी की अपील पर राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार यदि बात करना चाहती है तो हमारी कमेटी बात करेगी। हमारे मंच भी वही हैं और पंच भी वही हैं, हम चर्चा करना चाहते हैं।

राज्यसभा में मोदी ने कृषि कानून पर हो रहे देशभर में आंदोलन पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा बातें आंदोलन के संबंध में बताईं गईं, लेकिन किस बात पर आंदोलन है, उस पर सब मौन हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं सदन को विश्वास दिलाता हूं कि मंडिया और आधुनिक होंगी। एमएसपी थी, है और रहेगी। 80 करोड़ से अधिक लोगों को सस्ते में राशन मिलता रहेगा। हमारे कृषि मंत्री ने बहुत अच्छे ढंग से चर्चा की है। 

एंड्रायड पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें
Iphone पर  Dainik Savera App डाउनलॉड करें



Live TV

-->
Loading ...