Republic Day, Uttar Pradesh, farmer leader VM Singh, farmers protest

किसान आंदोलन से अलग हुए VM सिंह, बोले- किसानों को पिटवाने नहीं आए थे दिल्ली

नई दिल्लीः दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड़ के दौरान हुई हिंसा को लेकर उत्तर प्रदेश के किसान नेता वीएम सिंह ने खुद को किसान आंदोलन से अलग कर लिया है। वीएम सिंह के संगठन का नाम राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ है। ये संगठन अब आंदोलन का हिस्सा नहीं होगा। वीएम सिंह ने कहा कि ऐसे आंदोलन नहीं चलेगा। हम यहां पर शहीद कराने या लोगों को पिटवाने नहीं आए हैं। 

उन्होंने भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत पर आरोप लगाते हुए कहा कि टिकैत सरकार के साथ मीटिंग में गए। उन्होंने यूपी के गन्ना किसानों की बात एक बार भी उठाई क्या। उन्होंने धान की बात की क्या। उन्होंने किस चीज की बात की। हम केवल यहां से समर्थन देते रहें और वहां पर कोई नेता बनता रहा। बता दें कि, दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड़ में दंगों के बाद अब कुछ पार्टियां इस आंदोलन का साथ छोड़ती नजर आ रही है। उत्तर प्रदेश के वीके सिंह के बाद अब चिल्ला बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन (भानू ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानू प्रताप सिंह ने 58 दिनों से चल रहे धरने को समाप्त करने का ऐलान किया है।

एंड्रायड पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें

Live TV

-->
Loading ...