ग्राम संसद

हिमाचल में 3631 पंचायतों में चुनी जाएगी ग्राम संसद

सूबे में नई पंचायतों के गठन की प्रक्रिया पूरी हो गई है। लोगों की मांग पर प्रदेश में 405 नई पंचायतों का गठन हुआ है। पंचायतों के गठन की अधिसूचना जल्द जारी होगी। नई पंचायतों के गठन के बाद प्रदेश में 3631 पंचायतों में ग्राम संसद का चुनाव होगा। 2005 में हुए पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव से पहले प्रदेश में नई पंचायतों का गठन किया गया था। इसके बाद डेढ़ दशक से नई पंचायतों का गठन नहीं हुआ। नई पंचायतों का गठन न होने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा था। डेढ़ में ग्रामीण इलाकों में आबादी बढ़ने के साथ साथ गांवों में नई बस्तियां भी बनी। नतीजतन गांव पंचायत मुख्यालय से दूर हो गए। लिहाजा लोग सरकार से नई पंचायतों के गठन की मांग करने लगे। जयराम सरकार ने पंचायतों के गठन के मानक तय कर परिसीमन का कार्य प्रारंभ किया। लोगों से आपत्तियां व सुझावमांगे गए। प्राप्त जानकारी के मुताबिक आपत्तियां व सुझाव का वक्त खत्म होने के बाद उपायुक्तों ने लोगों की आपत्तियों का निपटारा कर लिया है। अब नई पंचायतों के गठन की अधिसूचना जारी होनी है। पंचायती राज विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक मंडी में 91, कांगड़ा 78, शिमला 49, ऊना 13, बिलासपुर 25, चंबा 26, हमीरपुर 19, लाहौल स्पीति में 4, किन्नौर 8, सोलन 30, सिरमौर 31 तथा कुल्लू जिला में 32 नई पंचायतों का गठन हुआ है। प्रदेश में वर्तमान में 3226 पंचायतें हैं। नई पंचायतों समेत प्रदेश में पंचायतों की संख्या 3631 हो गई है।