शारदीय नवरात्रि

शारदीय नवरात्रि में इस तरह करे माँ के 9 रूपों की पूजा ,हमेशा बना रहेगा आशीर्वाद

शारदीय नवरात्रि 17 अक्टूबर 2020 से शुरू हो रही है। माना जाता है के इस दिन माँ में 9 रूपों की पूजा की जाती है। शारदीय नवरात्रि में माँ के 9 रूपों की पूजा करने से अलग अलग लाभ प्राप्त होता है और आपको आपका मन पसंद वरधान भी प्राप्त होता है। कहा जाता है के इन 9 दिनों में जो भी अपने पुरे मैं से माँ के इन 9 रूपों की पूजा करते है माँ उनसे बेहद प्रसन्न होती है और उनपर अपना आशीर्वाद हमेशा बनाए रखती है। तो आइए जानते है के इन 9 दिनों में हमे कोण स गलतिया नहीं करनी चाहिए और माँ का आशीर्वाद पाने के लिए किन बातो का विशेष ध्यान रखना चाहिए :

-अगर आप अपने हर कार्य में सफलता और धन-सम्पदा हासिल करना चाहते हैं तो आपको नवरात्रि के अष्टमी तिथि के दिन महागौरी को कमलगट्टा चढ़ाना चाहिए और इसके साथ ही साथ माता का सबसे प्रिय पुष्प लाल गुड़हल भी जरूर चढ़ाना चाहिए.

-पूरे नवरात्रि भर माता रानी को ताजे पुष्प जरूर चढ़ाना चाहिए. पुराने हो चुके पुष्पों को कभी कूड़ेदान में नहीं डालना चाहिए बल्कि इसे नदी या कुएं में प्रवाहित कर देना चाहिए.

-अष्टमी और शुक्रवार के दिन नया झाड़ू खरीदकर घर में लाने से आपके और आपके बाकी घर वालों के ऊपर माता लक्ष्मी की कृपा होती है.

-नवरात्रि में हर रोज दुर्गासप्तशती का पाठ करना चाहिए ऐसा करने से आपके सारे बिगड़े कार्य पूरे होने लगते हैं.

-पूरे नवरात्रि भर गाय को रोटी खिलाने से आपकी हर मनोकामना पूरी होने लगती है और आपको अपने भाग्य का साथ भी मिलने लगता है.

-नवरात्रि में घर के ईशान कोण पर तुलसी का पौधा लगाने से घर के ऊपर माता रानी की कृपा बनी रहती है और घर में धन का आगमन भी बना रहता है.