friday meaures

उपाय: शुक्रवार की शाम जरुर करें ये काम, महालक्ष्मी बरसाएगी धन के भंडार

शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी की पूजा के लिए बहुत महत्व रखता है। मां लक्ष्मी की कृपा जिस व्यक्ति पर होती है उसके जीवन में धन संबंधी सभी परेशानियों का अंत होता है, मां लक्ष्मी की कृपा से आर्थिक तंगी से छुटकारा मिलता है। शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी का पूजन करते हैं। इस‍ दिन व्रत रखने का भी प्रावधान है। लक्ष्मी जी को हिंदू धर्म में सुख-समृद्धि, धन, वैभव तथा ऐश्वर्य की देवी माना जाता है। धन को अपने पास स्थाई बनाने के लिए मां लक्ष्मी का पूजन कर उन्हें प्रसन्न रखा जाता है, शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है। पूजा-पाठ करने वाले और भक्त‍ि भाव में लीन लोग शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी को पूजते हैं। 

मान्यताएं- लक्ष्मी पूजन से जुड़ी कुछ मान्यताएं हैं, जिनका पालन करके ही मां लक्ष्मी का पूजन आदि किया जाता है। 

- शुक्रवार के दिन शाम को देवी लक्ष्मी की उपासना के पहले स्नान कर यथासंभव लाल वस्त्र पहन लक्ष्मी मंदिर या घर में लाल आसन पर बैठकर माता लक्ष्मी का ध्यान अक्षत और लाल फूल हाथ में लेकर पूजन करें।

- लक्ष्मी समुद्र-मंथन में निकली थीं। मंथन से पहले सभी देवता गरीब और ऐश्वर्य विहीन थे। समुद्र मंथन में लक्ष्मी के प्रकट होने के बाद इंद्र ने महालक्ष्मी की स्तुति की इसके बाद महालक्ष्मी के वरदान के बाद उन्हें धन प्राप्त हुआ। 

- ऋषि विश्वामित्र के कठोर आदेश अनुसार ही लक्ष्मी साधना को गोपनीय एवं दुर्लभ रखा जाता है। कहते हैं कि मां लक्ष्मी की साधना को गुप्त रखना चाहिए।

- शास्त्रों में महालक्ष्मी के आठ स्वरुपों का वर्णन है। मां के इन स्वरुपों को जीवन की आधारशिला माना गया है।