हनुमान जी

हनुमान जी की हर तस्वीर का है अलग महत्व, जानकर आप भी हो जायेंगे हैरान

वैसे तो आप सभी ने हनुमान जी के बहुत से अलग-अलग चित्र देखेंगे होंगे। जैसे की, हवा में उड़ते हुए, पर्वत उठाते हुए या रामजी की भक्ति करते हुए। परन्तु  आज हम आपको बताएंगे हनुमान जी के अलग-अलग चित्रों से मिलता है अपार लाभ। जी हाँ, आइये जानते हैं कोनसे हैं वह चित्र।   

1. पर्वत उठाते हुए हनुमान का चित्र : यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपमें साहस, बल, विश्‍वास और जिम्मेदारी का विकास होगा। आप किसी भी परिस्‍थिति से घबराएंगे नहीं। हर परिस्थिति आपके समक्ष आपको छोटी नजर आएगी और तुरंत ही उसका समाधान हो जाएगा।


2. उड़ते हुए हनुमान : यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपकी उन्नती, तरक्की और सफलता को कोई रोक नहीं सकता। आपमें आगे बढ़ने के प्रति उत्साह और साहस का संचार होगा। निरंतर आप सफलता के मार्ग पर बढ़ते जाएंगे।

3. श्रीराम भजन करते हुए हनुमान : इस चित्र में हनुमानजी हाथ में करताल लेकर राम की भक्ति करते नजर आएंगे। यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपमें भक्ति और विश्‍वास का संचार होगा। यह भक्ति और विश्‍वास ही आपके जीवन की सफलता का आधार है। इस चित्र की पूजा से जीवन के लक्ष्य को पाने में आ रहीं अड़चनें दूर होती है।


4. दास हनुमान : आपने श्रीरामजी के चरणों में बैठे हुए हनुमानजी का चित्र देखा होगा। इन्हें रामदास हनुमान कहते हैं जो सदा रामकाज करने को आतुर रहते हैं। दास हनुमान की आराधना से व्यक्ति के भीतर सेवा और समर्पण की भावना का विकास होता है। धर्म, कार्य और रिश्तों के प्रति समर्पण और सेवा होने से ही सफलता मिलती है। बैठक रूम में आप श्रीराम दरबार का चित्र लगा सकते हैं जिसमें हनुमानजी उनके चरणों में बैठे हुए हैं।

5. ध्यान करते हनुमान : इस मुद्रा में हनुमानजी अपने आंखें बंद किए हुए सिद्धासन या पद्मासन में ध्यान कर रहे हैं। मोक्ष या शांति के अभिलाशी को हनुमानजी का यह चित्र लगाना चाहिए।

7. रोद्र या शक्ति मुद्रा में हनुमान : यदि आपको लगता है कि आपके घर पर भूत, प्रेत आदि नकारात्मक शक्तियों का असर है तो आप हनुमानजी का शक्ति प्रदर्शन की मुद्रा में चित्र लगाएं। यह चित्र आप उत्तर की दीवार पर लगाएं जिससे उनका मुख दक्षिण की ओर हो। इसके लिए आप पंचमुखी हनुमानजी का चित्र भी लगा सकते हैं।

8. पंचमुखी हनुमान : वास्तुविज्ञान के अनुसार पंचमुखी हनुमानजी की मूर्ति जिस घर में होती है वहां उन्नति के मार्ग में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं और धन संपत्ति में वृद्धि होती है। पंचमुखी हनुमान का चित्र द्वारा के भीतर या बाहर उपर की ओर लगाया जाता है। यदि भवन में गलत दिशा में कोई भी जल स्रोत हो तो इस दोष को दूर करने के लिए उस भवन में ऐसे पंचमुखी हनुमानजी का चित्र लगाना चाहिए, जिनका मुख उस जल स्रोत की ओर देखते हुए दक्षिण पश्चिम दिशा की तरफ हो।

9. आशीर्वाद मुद्रा में हनुमान : हनुमानजी का ऐसा चित्र जिसमें वे अपने दाएं हाथ से आशीर्वाद दे रहे हों। इस चित्र को घर में लगाने से हनुमानजी की कृपा आप पर सदैव बनी रहेगी। इससे घर में सुख, शांति और सौहार्द बना रहता है।


10. लाल हनुमान का चित्र : वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में दक्षिण दीवार पर हनुमानजी का लाल रंग का चित्र लगाएं। ऐसा करने से अगर मंगल आपका अशुभ है तो वो शुभ परिणाम देने लगेगा साथ ही घर में यदि गृह कलह है तो वह दूर हो जाएगी और हनुमानजी का आशीर्वाद आपको मिलने लगेगा। साथ ही पूरे परिवार का स्वास्थय अच्छा रहेगा।

आपको बता दें की हनुमान जी के और भी चित्र है जैसे राम और हनुमान के मिलन का चित्र, बाल हनुमान द्वारा सूर्य को निगलने के लिए जाने का चित्र, लंका दहन का चित्र, असुरों को मारते हुए हनुमानजी, छाती को फाड़ते हुए हनुमानजी, राम और लक्ष्मण को अपने कंधे पर विराजमान करके हवा में उड़ते हुए हनुमानजी। और हर चित्र का अलग महत्व है।