dharm

जानिए गायत्री मंत्र के उच्चारण के 10 चमत्कारी लाभ और सही समय

हिन्दू धर्म में सभी मंत्रों का अपना-अपना महत्व होता है। जिनके जाप से जीवन में चल रही सभी परेशानियों का अंत होता है। इसी तरह गायत्री मंत्र भी हमारे रोजमर्रा के जीवन को प्रभावित करती है। ये मंत्र जपने से आपको कई सारे लाभ होते हैं। इस मंत्र के जपने के तीन उचित समय होते हैं। पहला समय सूर्योदय होने के कुछ देर पहले से लेकर सूर्य के उदय होने जाने तक, दूसरा दोपहर में और तीसरा सूर्यास्त के होने के कुछ देर पहले से लेकर सूर्य के अस्त होने तक। इसके अलावा बाकी समय में यदि गायत्री मंत्र जपते हैं तो उसे मन में ही शान्ति से जपना चाहिए।

गायत्री मंत्र-
"ऊँ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात" 

लाभ-
- गायत्री मंत्र के जाप से मन शांत होता हैं। ये आपको क्रोध पर नियंत्रण रखने के काम भी आता हैं। जब भी आपका मन अशांत हो या आपको बहुत गुस्सा आ रहा हो तो इस मंत्र का जाप करने लग जाए।

- गायत्री मंत्र के उच्चारण से रक्त संचार सही तरीके से होता हैं। इसे जपना अस्थमा रोगियों के लिए भी लाभकारी हैं। इतना ही नहीं ये भी मान्यता हैं कि इसे जपने से त्वचा में निखार आ जाता हैं।

- स्टूडेंट्स के लिए गायत्री मंत्र खजाने की तरह होता हैं। इसका रोज जाप करने से दिमाग तेज़ चलता हैं। पढ़ाई में फोकस अधिक होता हैं। स्मरण शक्ति भी तेज़ हो जाती हैं।

- हर किसी के जीवन में कुछ ना कुछ समस्यां जरूर होती हैं। इस मंत्र के जाप से उस समस्यां का अंत होता हैं।

- ये आपके भाग्य को प्रबल बनाती हैं। आपके साथ जीवन में सबकुछ अच्छा ही घटित होता हैं।

- गायत्री मंत्र जपने के दौरान नारियल के बुरे और घी का इस्तेमाल करने से शत्रुओं का नाश होता हैं। इसी नारियल के बुरे में शहद मिला दे तो सोई किस्मत भी जाग जाती हैं।

- गायत्री मंत्र के जाप से परिवार में सभी का स्वास्थ सही रहता हैं। इसके साथ ही आपके रिश्तेदारों से संबंध सुधरते हैं। इतना ही नहीं संतान प्राप्ति हेतु भी इस मंत्र का उपयोग किया जा सकता हैं।

- यदि आप नियमति गायत्री मंत्र का जाप करते हैं तो आपकी कुंडली में सूर्यदेव की स्थिति मजबूत होती हैं। गायत्री मंत्र का जाप सूर्यदेव के सामने बैठ करने से बहुत लाभ होता हैं। आपकी हर मनोकामना भी पूर्ण हो जाती हैं।

- घर में नियमित गायत्री मंत्र जपने से वास्तु दोष दूर होते हैं। इससे घर की नेगेटिव एनर्जी ख़त्म होती हैं और पॉजिटिव एनर्जी बढ़ती हैं।

- प्रेम या विवाह में यदि कोई समस्यां आ रही हैं तो रोजाना गायत्री मंत्र का जाप पीपल के पेड़ के नीचे जपने से इस समस्यां का समाधान हो जाता हैं।

- यदि आप दिन में रोजाना 108 बार गायत्री मंत्र का जाप कर लेते हैं तो आपका पूरा दिन शुभ जाता हैं। ये मंत्र आपकी सुरक्षा भी करता हैं। तो ये थे गायत्री मंत्र जपने के कुछ फायदें जिनके बारे में अब आप जान चुके हैं।