china

डब्ल्यूएचओ : महामारी की रोकथाम में चीन ने "असाधारण एकजुटता" दिखाई है

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के स्वास्थ्य आपातकालीन कार्यक्रम के प्रभारी माइकल रयान ने 5 फरवरी को कहा कि चीन ने कुछ ही दिनों के भीतर विशेष अस्पताल बनाए हैं और नए कोरोनोवायरस निमोनिया से ग्रस्त मरीजों को भर्ती कर उनका उपचार करना शुरू किया। यह न केवल चीन की असाधारण एकजुटता को दर्शाता है, बल्कि लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए चीन सरकार के दृढ़ संकल्प को भी जाहिर करता है।

चीन में 10 दिनों के भीतर विशेष अस्पताल बनाने और कई जगहों को “वर्गाकार कक्ष अस्पताल” में बदलने के कदमों को लेकर रयान ने कहा कि यह बहुत बड़ी परियोजना है। चीन के कुछ ही दिनों में किया गया यह काम उल्लेखनीय है। नए अस्पताल न केवल मरीजों को उचित अलगाव उपचार प्रदान कर सकते हैं, बल्कि उनके रहने से समुदायों को संक्रमण से बचाया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि अस्पतालों के पूरा होने के बाद चीन के अन्य हिस्सों से समर्थन देने के लिए कई चिकित्सा कर्मचारी वुहान आए हैं। चीनी लोगों ने असाधारण एकजुटता दिखाई है। यह भी दर्शाता है कि चीन सरकार ने दृढ़ संकल्प लिया है कि अपनी पूरी कोशिश करके चीनी लोगों की रक्षा करेगी।

रयान ने कहा कि डब्ल्यूएचओ द्वारा गठित एक अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ दल जल्द ही चीन जाएगी, जिसके विशेषज्ञ विभिन्न देशों के होंगे और वैक्सीन व दवा का अध्ययन, सार्वजनिक स्वास्थ्य आदि क्षेत्रों में काम करते हैं। वे चीन में महमारी से निपटने के अनुभव सीखेंगे और पूरी दुनिया में साझा करेंगे।
(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)