‘कस्टम लैंडमार्क’ नामक नया फीचर लेकर आ रहा Snapchat, जानिए कैसे करेगा काम

Spread the News

सैन फ्रांसिस्को: लोकप्रिय सोशल मीडिया ऐप स्नैपचैट ‘कस्टम लैंडमार्कर’ नामक एक नई सुविधा शुरू कर रहा है जो क्रिएटर्स को उन स्थानीय स्थानों के लिए अद्वितीय एआर अनुभव बनाने देता है जिनकी वे परवाह करते हैं। कंपनी ने कहा कि यह फीचर्स, जो उसके लेंस स्टूडियो में उपलब्ध है, उसका उपयोग क्रिएटर्स के स्थानीय समुदायों में मूर्तियों और स्टोरफ्रंट जैसी चीजों के लिए लैंडमार्क बनाने के लिए किया जा सकता है। दिसंबर में स्नैप के लेंस फेस्ट इवेंट में नई सुविधा शुरू हो रही है।

टेकक्रंच की रिपोर्ट के अनुसार, नए कस्टम लैंडमार्कर लैंडमार्क पर या लेंस निर्माता की प्रोफाइल पर प्रदर्शित फिजिकल स्नैपकोड के माध्यम से खोजे जा सकते हैं। स्नैपचैट ने कहा कि लॉन्च उसके एआर प्लेटफॉर्म को लगातार आगे बढ़ाने और 250,000 लेंस निर्माताओं के अपने समुदाय को नए अनुभव बनाने में सक्षम बनाने के प्रयासों का हिस्सा है जो यूजर्स के सीखने और तलाशने के तरीके को बढ़ाता है।

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘2019 में, हमने दुनिया भर में 30 प्रिय साइटों के टेम्प्लेट के साथ शुरूआत की, जिन्हें निर्माता लैंडमार्कर कह सकते हैं।’’ आगे कहा गया, ‘‘लेकिन हमारे एआर निर्माता समुदाय के लिए लंगर, स्थान-आधारित लेंस बनाने के लिए अनंत स्थान हैं। आज, हम लेंस स्टूडियो में कस्टम लैंडमार्कर लॉन्च कर रहे हैं, जिससे क्रिएटर्स को उन स्थानीय स्थानों पर लेंस एंकर करने की सुविधा मिलती है जो उनके बारे में समृद्ध कहानियां बताते हैं।’’

लेंस निर्माता जो स्नैप के लेंस नेटवर्क का हिस्सा हैं, उन्हें कस्टम लैंडमार्कर तक जल्दी पहुंच प्राप्त हुई और उन्होंने अपने समुदायों में एआर अनुभव पहले ही लॉन्च कर दिए हैं। कंपनी ने कहा कि जैसा कि वह अपने एआर प्लेटफॉर्म को विकसित करना जारी रखती है, वह यह सुनिश्चित करना चाहती है कि क्रिएटर्स द्वारा बनाए गए अनुभव उसके यूजर्स की भलाई का समर्थन करें।

इसे हासिल करने के लिए स्नैपचैट अपने प्लेटफॉर्म पर एआर कंटेंट को मॉडरेट करता है। इसने नोट किया कि इसकी मॉडरेशन टीम सभी लेंसों को सार्वजनिक रूप से एक्सेस करने से पहले उन्हें मंजूरी देती है।