भारत ने दुनिया को दिखाई ताकत: DRDO ने BrahMos सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का किया सफ़ल परीक्षण

Spread the News

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने आज अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में सतह से सतह पर मार करने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया है. इस मिसाइल परीक्षण को देखने के लिए एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी और अन्य रक्षा अधिकारी मौजूद थे. रक्षा अधिकारी ने जानकारी दी कि मिसाइल ने अपने लक्ष्य को सटीक तरीके से निशाना बनाया. एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के सफल परीक्षण पर बधाई दी. वह परिचालन तैयारियों की समीक्षा करने के लिए अंडमान और निकोबार के द्वीप क्षेत्र में हैं. इससे पहले 8 दिसंबर 2021 वायुसेना के लड़ाकू विमान सुखोई-30 एमके-1 में ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के एयर वर्जन का सफल परीक्षण किया गया था. मिसाइल ने तय मानकों को पूरा करते हुए दुश्मन के ठिकाने को ध्वस्त कर दिया. सुखोई-30 एमके-1 फाइटर जेट में लगाए गए ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को पूरी तरह से देश में ही तैयार किया गया है।