कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास के लिए सरकार प्रतिबद्ध : मनोज सिन्हा

Spread the News

जम्मू-कश्मीर : आज बातचीत के दौरान प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास व कल्याण के लिए केंद्र और प्रदेश सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री विकास पैकेज के तहत घाटी के विभिन्न स्थानों पर 6000 ट्रांजिट आवास में से 1025 बनकर तैयार हैं। शेष का काम जल्द शुरू होगा। घाटी में कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास और नब्बे के दशक में कश्मीर घाटी व जम्मू संभाग में हुए नरसंहार के लिए जांच आयोग के सवाल पर एल.जी. ने कहा कि सरकार कहना नहीं, बल्कि कुछ करना चाहती है। उन्होंने कहा कि केवल नौकरी और आवास समाधान नहीं है, हम और भी उपाय कर रहे हैं। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि अभी कुछ दिन पहले खाड़ी देशों से उद्यमियों का 34 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल श्रीनगर आया था और जम्मू-कश्मीर में व्यापक निवेश पर गंभीर चर्चा हुई है।

उपराज्यपाल कहा कि 27 हजार करोड़ रुपए के निवेश प्रस्तावों को मंजूरी दी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि 20 डी.डी.सी. के लिए प्रत्येक डी.डी.सी. को 10 करोड़ रुपए विकास के लिए दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष स्वच्छ अभियान के अंतर्गत मेरा गांव स्वच्छ गांव चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में रोड तथा पुल की व्यवस्था को और अधिक मजबूत करने के लिए इस वर्ष 6296 करोड़ रुपए आवंटित किया गया है। इस वर्ष 4 नेशनल हाईवे जम्मू-अखनूर रोड, चिनैनी-सुद्धमहादेव, बारामुला-गुलमर्ग तथा सेमी रिंग रोड जम्मू पूरा कर लिए जाएंगे। इसके अलावा दिल्ली-अमृतसर-कटड़ा एक्स्प्रेस वे के अतिरिक्त भारतमाला परियोजना के अंतर्गत 10 नए रोड तथा टनल प्रोजेक्ट पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।