एमडीयू के एलुमनाई ने अपनी सांस्कृतिक प्रतिभा की धूम बॉलीवुड तक मनवाई : प्रो. राजबीर सिंह

Spread the News

रोहतक : महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय सांस्कृतिकसाहित्यिक प्रतिभाओं को मंच प्रदान करने के लिए तथा हरियाणवी संस्कृति के संरक्षण के लिए परिसर में हैरिटेज विलेज की स्थापना करेगा। साथ ही एमडीयू की सांस्कृतिक-साहित्यिक प्रतिभा का डंका देश-विदेश में बजे, इसके लिए भी विश्वविद्यालय प्रशासन समग्र योजना के साथ इस संबंध में कार्य करेगा। यह बात उन्होंने शुक्रवार को टैगोर सभागार में विश्वविद्यालय के 40वें इंटर जोनल यूथ फैस्टिवल- यूनिफेस्ट 2022 का द्वीप प्रज्वलित कर शुभारम्भ करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि एमडीयू के एलुमनाई ने अपनी सांस्कृतिक प्रतिभा की धूम बॉलीवुड तक मनवाई है। नाटक, फिल्म, संगीत, मनोरंजन के क्षेत्र में प्रतिभाशाली एलुमनाई ने उपलब्धियां हासिल की है। कुलपति ने युवा वर्ग को अपना जोश-जज्बा-जुनून तथा ऊर्जा को सकारात्मक दिशा में लगाने का आह्वान। डीन, स्टूडैंट वैल्फेयर प्रो. राजकुमार ने स्वागत भाषण दिया। कार्यRम का बेहतरीन संचालन निदेशक युवा कल्याण डा. जगबीर राठी ने किया। संगीत विभाग के प्राध्यापक तथा प्रतिष्ठित गायक कलाकार डा. सौरभ वर्मा ने देशभक्ति से सराबोर गीत- सुनो गौर से दुनिया वालों सुनाकर राष्ट्र प्रेम की सुरीली तान छेड़ी।

डा. जगबीर राठी ने बोल तेरे मीठे-मीठे गीत से उपस्थित जन को झूमा दिया। यूनिफेस्ट के मुख्य स्टेज पर हरियाणवी समूह नृत्य, समूह गीत,मिमिक्री तथा माइम इवेंट्स का आयोजन किया गया। राधाकृष्णन सभागार में शास्त्रीय नृत्यों की धूम रही। स्वराज सदन में कविता पाठ तथा संस्कृत संभाषण प्रतियोगिता आयोजित की गई। वहीं टैगोर सभागार के गैलेंट्री गैलरी में आन द स्पॉट पेंटिंग, क्ले मॉडलिंग तथा काटूनिर्ंग इवैंट्स आयोजित किए गए। इस अवसर पर प्रो. संतोष नांदल, प्रो. रणबीर गुलिया, प्रो. विनिता हुड्डा, डा. संदीप मलिक, सुनित मुखर्जी, प्रो. दिव्या मल्हान, डा. प्रताप राठी, पंकज नैन प्रमुख रूप से मौजूद रहे।