भाजपा के शासन काल में एक भी कश्मीरी पंडित परिवार घाटी में नहीं लौटा: CM Kejriwal

Spread the News

नयी दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा पर कश्मीरी पंडितों के पलायन पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए शनिवार को सवाल किया कि पार्टी ने सत्ता में आने के बाद से उनमें से कितने लोगों को घाटी में फिर से बसाया है।‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच जुबानी जंग शुरू होने के बीच केजरीवाल ने एक बार फिर सुझाव दिया कि इस फिल्म को यूट्यूब पर अपलोड किया जाना चाहिए और इससे अब तक हुई कमाई को कश्मीरी पंडितों के कल्याण पर खर्च किया जाना चाहिए।

फिल्म पर अपनी टिप्पणी और भाजपा की आलोचना पर एक सवाल के जवाब में केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछले 25 वर्षों में कश्मीरी पंडितों के पलायन के बाद से, पिछले आठ वर्ष समेत 13 वर्ष में केंद्र में भाजपा की सरकारें रही हैं। क्या इस अवधि में किसी कश्मीरी पंडित परिवार का पुनर्वास हुआ है? एक भी परिवार कश्मीर नहीं लौटा है।’’ केजरीवाल ने कहा कि कश्मीर पंडित अपने घरों को लौट सकें, इसके लिए ठोस कदम उठाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने लगभग 200 करोड़ रुपये कमाए हैं और आरोप लगाया कि भाजपा फिल्म के माध्यम से ‘‘किसी की त्रसदी पर पैसा कमा रही है।’’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यह एक अपराध है। देश इसे बर्दाश्त नहीं करेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा इस मुद्दे पर राजनीति कर रही है। हम मांग करते हैं कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म को यूट्यूब पर अपलोड किया जाए। इससे कमाए गए पैसे को कश्मीरी पंडितों के कल्याण पर खर्च किया जाना चाहिए।’’ केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को विधानसभा में पहली बार यह सुझाव दिया था। उन्होंने फिल्म को कर-मुक्त बनाने के कदम की आलोचना की थी और फिल्म निर्माता को सुझाव दिया था कि वह इसे यूट्यूब पर डाल दें ताकि सभी लोग इसे देख सकें। उन्होंने फिल्म के प्रचार के लिए भाजपा नेताओं पर भी कटाक्ष किया था।

भाजपा ने पलटवार करते हुए केजरीवाल पर जम्मू कश्मीर में आतंकवाद से जान गंवाने वालों का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया। दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल और आप के अन्य विधायकों के हंसते हुए दिखने वाली एक तस्वीर पोस्ट करते हुए भाजपा महासचिव बी एल संतोष ने ट्वीट किया था, ‘‘इसे कभी नहीं भूलें।’’ संतोष ने ट्वीट में तीखी टिप्पणी करते हुए कहा था, ‘‘वे उन लोगों पर हंस रहे हैं जिन्होंने आतंकवाद के कारण जम्मू कश्मीर में अपनी जान गंवाई, उन माताओं पर हंस रहे हैं जिन्होंने अपने बच्चों को खो दिया, जिन बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया, जो सुरक्षा बल मारे गए, जो महिलाएं मारी गईं, जिन बच्चों को गोली मारी गई थी..बेशर्म अराजकतावादी।’’ भाजपा के प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने ट्वीट किया था, ‘‘ हिन्दुओं से नफरत करने वालों का चेहरा ऐसा दिखता है।’’