लाखों रुपए खर्च कर निर्मित ओवरहैड टैंक बना शो-पीस, पेयजल की सप्लाई करना भूला विभाग

Spread the News

बड़सर  : पेयजल सुविधा के लिए लाखों रुपए खर्च कर बनाया गया ओवरहैड टैंक शो-पीस बन कर रह गया है। करीब दो वर्ष पूर्व लोगों को पेयजल सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से ओवर हैड टैंक तो बना दिया लेकिन लोगों को पेयजल की सप्लाई करवाना विभाग भूल गया है। आलम यह है कि जल शक्ति विभाग द्वारा लोगों को बेहतर पेयजल सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से ओवरहैड टैंक बनाया गया है। दो वर्ष बने पूर्व बने इस ओवर हैड टैंक से पेयजल की सप्लाई लोगों को ना देना आम जनमानस में चर्चा का विषय बना हुआ है।

ऐसा ही वाक्य जल शक्ति विभाग के बड़ाग्रां में देखने को मिल सकता है। हैरत की बात यह है कि यदि लाखों रुपए खर्च करने के बाद भी यदि लोगों को इस ओवर हैड टैंक से पानी की सप्लाई नहीं देनी तो ऐसे में इस ओवर हैड टैंक बनाने का क्या औचित्य रह जाता है।

उल्लेखनीय है कि बड़ाग्रां में बनाए गए इस ओवर हैड टैंक से बड़ा गांव, चौकी, धबीरी, गुरु द वन इत्यादि बस्तियों को पानी की सप्लाई दी जानी थी, लेकिन विभाग ने इन गांवों के लोगों को आज दिन तक इस ओवर हैड टैंक से पानी की सप्लाई नहीं की। इसके चलते इन गांवों के लोगों को पानी की एक-एक बूंद के लिए दर-दर की ठोकरें खाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। इन दिनों वैसे भी गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है।

गर्मियों के मौसम में पानी के लिए हर जगह हाहाकार मच जाता है। इन बस्तियों के लोगों को गर्मियों के मौसम में पानी की बहुत ज्यादा परेशानी हो जाती है। यही कारण है कि स्थानीय लोगों की इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश सरकार ने ओवरहैड टैंक बनाकर लोगों की समस्या का समाधान करने का प्रयास तो किया लेकिन विभाग सरकार द्वारा राशि मंजूर होने के बावजूद भी आधाअधूरा काम कर इस स्कीम को शुरू नहीं कर पा रहा है। ऐसा नहीं कि लोगों की इस समस्या की विभाग को कोई भी जानकारी नहीं है।

विभागीय अधिकारियों को यह सब जानकारी होने के बावजूद भी मौन रूप धारण किए हुए है। इससे साफ प्रतीत होता है कि विभाग लोगों की इस समस्या के प्रति कितना गंभीर है। बताया यह भी जा रहा है कि जल शक्ति विभाग द्वारा इस स्कीम के लिए जो सूचना पट्ट स्थापित किए गए थे उनको शरारती तत्वों ने उखाड़ कर खेत खलिहानों में फैंक दिया है। गौरतलब है कि ऐसा नहीं कि विभाग द्वारा बनाए गए ओवरहैड टैंक को मेन सप्लाई लाइन नहीं बिछाई गई है।

विभाग द्वारा गबल्ड खड्ड से ओवरहैड टैंक के लिए पाइप लाइन बिछाने के बाद टैस्टिंग कर टैंक को पानी से भर दिया है। लेकिन लोगों को बिछाई जानी वाली पाइप लाइनें विभाग ने अभी तक नहीं बिछाई हैं। यही कारण है कि लोगों को इस ओवरहैड टैंक से पेयजल की सप्लाई नहीं हो पा रही है। लिहाजा स्थानीय लोगों ने विभाग को चेताया है कि शीघ्र अति शीघ्र ओवरहैड टैंक से लोगों का पानी की सुविधा नहीं दी गई तो ऐसे में संबंधित विभाग कार्यालय का घेराव करने पर मजबूर होना पड़ेगा।

क्या कहते हैं जल शक्ति विभाग के सहायक अभियंता

इस संदंर्भ में जल शक्ति विभाग के सहायक अभियंता सुरेश कुमार का कहना है कि इस योजना का लगभग 80 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। खड्ड से टैंक तक लाइन बिछाकर टैस्टिंग भी कर ली गई है। शेष बचे कार्य को 10 से 15 दिनों में शुरू करवा दिया जाएगा।