जिले में अप्रैल से बढ़ेगा कूड़ा शुल्क, लागू होगी 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी, बढ़ेगी एमसी की आय

Spread the News

शिमला : राजधानी शिमला में पहली अप्रैल से रोजाना घरों से कूड़ा उठाने के शुल्क में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी होगी। जबकि चुनावी साल होने के चलते सालाना महंगे होने वाले पेयजल को लेकर कोई प्रस्ताव तैयार नहीं किया गया। ऐसे में उम्मीद है कि सरकार पेयजल दरों में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी नहीं करेंगी, वहीं पेयजल के और सस्ता होने और इसके साथ ही सीवरेज सैस के भी घटने की उम्मीद हैं, जिसे लेकर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने पेयजल कंपनी के अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश जारी किए हैं। लेकिन कूड़ा शुल्क में 10 प्रतिशत के बाद होगा। घरेलू और व्यावसायिक दरों में पर होने वाली 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी के बाद घरेलू कूड़ा शुल्क 96.80 रुपए से बढ़ कर 106.48 रुपए हो जाएगा, वहीं एमसी प्रशासन द्वारा तय अन्य व्यावसायकि कूड़ा दरों के अनुसार उसमें भी 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी होगी।

एमसी प्रशासन का कहना है कि हर साल कूड़े के बिलों में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी का निर्णय एमसी हाऊस से पारित है, तो ऐसे स्थिति में दोबारा से बढ़ौतरी प्रस्ताव हाऊस में ले जाने की कोई जरूरत नहीं है। यानी 1 अप्रैल से कूड़ा के दरों में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी तय है। बता दें कि वर्ष 2020 में कोविड-19 के मध्यनजर एमसी द्वारा कूड़ा शुल्क में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी नहीं की गई थी। लेकिन बीते साल की तरह इस बात तय नियमों के तहत कूड़ा शुल्क बढ़ेगा। बता दें कि मौजूदा समय में एमसी के आंकड़े के अनुसार डोर टू डोर गारबेज सुविधा से 60 हजार उपभोक्ता जुड़े हैं। जिसमें करीब 50 हजार घरेलू उपभोक्ता है, जबकि 10 हजार के करीब व्यावसायिक उपभोक्ता हैं। वहीं गारबेज शुल्क से एमसी के खजाने में सालाना करोड़ों रुपए जमा हो रहे, जबकि लगभग 10 करोड़ की रिकवरी अभी भी वसूली जानी हैं। ऐसे में दरों में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी के साथ ही एमसी की आय भी बढ़ेगी, यदि एमसी मासिक शुल्क को शत प्रतिशत वसूल सकें तो खाली पड़े खजाने में अच्छी रकम जमा हो सकती है।

दरों में बढ़ौतरी के साथ बढ़ेगा सैहब कर्मचारियों का वेतन

बता दें कि घरों से रोजाना कूड़ा उठाने का काम सैहब सोसयटी के कर्मचारियों द्वारा किया जा रहा हैं। जिनका वेतन हर महीने जमा होने वाले कूड़ा शुल्क से दिया जाता है। ऐसे में कूड़ा दरों में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी के साथ ही सैहब कर्मचारियों के वेतन में भी 10 प्रतिशत की वृद्धि होगी। सैहब कर्मचारी यूनियन के प्रधान जसवंत सिंह ने बताया कि एमसी द्वारा हर साल कर्मचारियों के वेतन में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी का प्रस्ताव पास हैं जिसके तहत अप्रैल में सैहब कर्मचारियों की वेतन बढ़ौतरी प्रस्तावित है।

अप्रैल से कूड़ा शुल्क में 10 प्रतिशत की बढ़ौतरी होगी, यह बढ़ौती एमसी हाऊस द्वारा पास प्रस्ताव के तहत की जाएगी। -आशीष कोहली, आयुक्त एमसी शिमला।