सेंट्रल सर्विस रूल्स: केंद्र के फैसले का CM Mann ने किया विरोध, बोले- चंडीगढ़ पर अपने सही दावे के लिए मजबूती से लड़ेगा पंजाब

Spread the News

चंडीगढ़: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह हाल ही में चंडीगढ़ के एक दिवसीय दौरे पर कई परियोजनाओं का उद्घाटन करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने धनास में पुलिस प्रशासन के हाऊसिंग के 2 प्रोजैक्टों के लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते कहा कि शहर में अब चंडीगढ़ प्रशासन के अधीन आते विभागों में सेंट्रल गवर्नमैंट सेवा शर्तें लागू होंगी। हालांकि इस फैसले का पंजाब में काफी विरोध किया जा रहा है। वहीं अब इस पर मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि पंजाब चंडीगढ़ पर अपने सही दावे के लिए मजबूती से लड़ेगा।

सीएम ने ट्वीट कर लिखा केंद्र सरकार चंडीगढ़ प्रशासन में अन्य राज्यों और सेवाओं के अधिकारियों और कर्मियों को चरणबद्ध तरीके से लगा रही है। यह पंजाब पुनर्गठन अधिनियम 1966 के अक्षर और भावना के खिलाफ जाता है। चंडीगढ़ पर अपने सही दावे के लिए मजबूती से लड़ेगा पंजाब।

आपको बता दें कि चंडीगढ़ प्रशासन में काम करने वाले कर्मचारियों की लंबे समय से मांग थी उनकी सेवा शर्तें सेंट्रल गवर्नमैंट से जोड़ी जाएं ताकि उन्हें भी केंद्र सरकार की भांति वेतनमान एवं सेवा शर्तों का फायदा मिल सके। चंडीगढ़ प्रशासन में पहले प्रशासन की ओर से कभी पंजाब के नियम को अपनाया जाता था तो कभी सेंट्रल गवर्नमैंट की सेवा शर्तों को लागू करने की बात कही जाती थी लेकिन इस सब से मोदी सरकार ने गत दिवस कैबिनेट की बैठक में चंडीगढ़ प्रशासन के कर्मियों की मुख्य मांग को देखते अब सैंट्रल गवर्नमैंट की सेवा शर्तों को लागू करने के प्रस्ताव को पास कर दिया है। इस प्रस्ताव पर सोमवार को अधिसूचना जारी हो जाएगी।