CM Yogi Adityanath ने मंत्रियों को सौंपी जिम्मेदारी, गृह मंत्रालय समेत 34 विभाग रखे अपने पास

Spread the News

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने नवनियुक्त मंत्रियों को विभागों का बंटवारा किया और सबसे बड़ा हिस्सा अपने लिए रखा। सीएम योगी ने गृह, सामान्य प्रशासन, आवास एवं शहरी नियोजन, नियुक्ति, कार्मिक, निर्वाचन, सूचना और राजस्व सहित 34 अहम विभाग अपने पास रखे हैं। मुख्यमंत्री ने गृह, सतर्कता, राजस्व, सामान्य प्रशासन, सूचना, संपदा विभाग, संस्थागत वित्त, सचिवालय प्रशासन, खनन, खाद्य सुरक्षा, आवास, नागरिक उड्डयन और कानून सहित अन्य को बरकरार रखा है।

उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य को ग्रामीण विकास, ग्रामीण इंजीनियरिंग, राष्ट्रीय एकीकरण, खाद्य प्रसंस्करण और मनोरंजन कर आवंटित किया गया है। मौर्य के पास पिछली सरकार में सभी महत्वपूर्ण पीडब्ल्यूडी विभाग थे। एक अन्य डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक को चिकित्सा शिक्षा, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण दिया गया है। वरिष्ठ मंत्री सुरेश खन्ना के पास संसदीय मामलों और वित्त विभाग बरकरार रखा गया है। सूर्य प्रताप शाही को अपना कृषि विभाग मिला, जबकि स्वतंत्र देव सिंह को सबसे महत्वपूर्ण जल शक्ति मंत्रालय मिला। बेबी रानी मौर्य को महिला एवं बाल कल्याण विभाग दिया गया है, जबकि चौधरी लक्ष्मी नारायण को गन्ना विकास मंत्रालय का प्रभार दिया गया है।

धर्मपाल सिंह को डेयरी विकास मिला, जबकि जयवीर सिंह को पर्यटन मिला। जितिन प्रसाद को महत्वपूर्ण पीडब्ल्यूडी मंत्रालय दिया गया है, जबकि नंद गोपाल नंदी को औद्योगिक विकास मिला है। संजय निषाद को मत्स्य विभाग आवंटित किया गया है, जबकि आशीष पटेल को तकनीकी शिक्षा मिली है। नितिन अग्रवाल को उत्पाद शुल्क दिया गया है। पूर्व आईपीएस अधिकारी असीम अरुण को समाज कल्याण मंत्रालय दिया गया है, जबकि दया शंकर सिंह को परिवहन मंत्रालय दिया गया है। एकमात्र मुस्लिम मंत्री दानिश आजाद को अल्पसंख्यक कल्याण विभाग का प्रभारी बनाया गया है।