जर्मनी में अमेरिकी विमानों का रुस के विरुद्ध नहीं होगा इस्तेमाल

Spread the News

अमेरिका के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इस सप्ताह जर्मनी के स्पैंगडाहलेम एयर बेस पर पहुंचने वाले नौसेना के छह ईए-18जी ग्रोलर विमानों का इस्तेमाल यूक्रेन में रुस के विरुध नहीं किया जाएगा। इसका उपयोग नाटो के पूर्वी मोर्चे को मजबूत करने के लिए किया जाएगा। पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने सोमवार को जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा,‘‘उन्हें यूक्रेन में रुस की सेना के विरुध इस्तेमाल के लिए तैनात नहीं किया जा रहा है।’’ उन्हें पूरी तरह से पूर्वी मोर्चे पर नाटो की प्रतिरोधक क्षमता तथा रक्षा क्षमताओं को बढ़ाने के हमारे प्रयासों को ध्यान में रखते हुए तैनात किया जा रहा है।’’

श्री किर्बी ने कहा कि द ग्रोलर यूएस एफ-18 सुपर हॉर्नेट फाइटर जेट का एक विशेष संस्करण है यह दुश्मन के राडार को चकमा देने वाले जैमिंग सेंसर के एक सेट का उपयोग करके इलेक्ट्रॉनिक युद्ध मिशन की उड़ाने के लिए सुसज्जित है। जो कि दुश्मन के वायु रक्षा अभियानों को दबाने की क्षमता में मदद करता है। उन्होंने कहा कि जर्मनी में पायलट और रखरखाव दल के करीब 240 नौसेनिक तैनात रहेंगे।