जेल में पूरी रात करवटें बदलते रहे Navjot Sidhu, दाल-रोटी खाने से भी किया इनकार, कुछ ऐसी बीती पहली रात

Spread the News

चंडीगढ़: पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू अब सलाखों के पीछे हैं। 34 साल बाद रोड रेज मामले में कोर्ट ने उन्हें एक साल की सजा सुनाई है। इसी से अब सिद्धू का जेल का सफर शुरू हो गया है। कल यानि 20 मई को उनकी जेल में पहली रात थी। हालांकि वीआईपी ट्रीटमेंट में रहने वाले सिद्धू के लिए पहली रात थोड़ी मुश्किलों भरी जरूर रही। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो वह पूरी रात जेल में करवटें बदलते रहें। वहीं सेहत का हवाला देते हुए उन्होंने दाल रोटी खाने से भी इनकार कर दिया। खाने में सिद्धू ने सिर्फ सलाद और फ्रूट ही लिए।

सिद्धू को मिला कैदी नंबर 241383

वहीं सिद्धू को कैदी नंबर अलॉट कर बैरक नंबर 10 में शिफ्ट किया गया है। उन्हें कैदी नंबर 241383 दिया गया है। जहां वह हत्या में सजा काट रहे 8 कैदियों के साथ रहेंगे। उन्हें जेल में सीमेंट से बने थड़े पर ही सोना होगा।

कुछ ऐसी होगी दिनचर्या

जानकारी के मुताबिक सिद्धू सुबह 5 बजे उठेंगे इसके बाद उन्हें 7 बजे चाय दी जाएगी। तकरीबन 8.30 बजे के करीब उन्हें नाश्ता दिया जाएगा। जिसके बाद सिद्धू फैक्ट्री जाएंगे और वहां काम करेंगे। शाम 5.30 बजे वह वापिस आएंगे। जिसके बाद उन्हें 6 बजे रात का खाना दिया जाएगा और रात 7 बजे उन्हें बैरक में बंद कर दिया जाएगा। वहीं सिद्धू को जेल के भीतर सफेद कपड़े पहनने होंगे। इसके साथ उन्हें एक कुर्सी-टेबल, 2 बैडशीट, आलमारी, जूतों की जोड़ी, 2 पगड़ी, एक कंबल, एक बैड, तीन अंडरवियर और बनियान, 2 टॉवल, एक मच्छरदानी, एक कॉपी-पैन, दो तकिया कवर और 4 कुर्ते-पायजामे दिए गए हैं।