लखनऊ : अग्निपथ योजना’ के खिलाफ देश भर में आंदोलन के कारण पूर्वोत्तर, उत्तर-मध्य और उत्तर रेलवे द्वारा कई रेलगाड़ियां निरस्त

Spread the News

लखनऊ (उत्तर प्रदेश) : केंद्र सरकार की नई ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ देश भर में युवाओं के आंदोलन को देखते हुए पूर्वोत्तर रेलवे, उत्तर मध्य रेलवे और उत्तर रेलवे ने कई ट्रेन को रद्द कर दिया है तथा कुछ को रोकना पड़ा है। पूर्वोत्तर रेलवे एनईआर के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि रेलवे स्टेशन के बाहर यार्ड में खड़ी एक ट्रेन के खाली डिब्बे में कुछ लोगों ने आग लगा दी, लेकिन आग पर तुरंत काबू पा लिया गया और ज्यादा नुक्सान नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि युवाओं के आंदोलन को देखते हुए पूर्वोत्तर रेलवे ने 12 रेलगाड़ियां निरस्त की हैं। इसमें वाराणसी-छपरा, छपरा-औरिहार, बलिया-वाराणसी, आजमगढ़-वाराणसी, प्रयागराज-रामबाग-मऊ, छपरा-वाराणसी, थावे- मसरख, मसरख-थावे, वाराणसी-बलिया और बनारस-पटना एक्सप्रेस ट्रेन शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा 15 ट्रेन को फिलहाल रेलवे स्टेशनों पर रोका गया है और हालात सही होने पर उन्हें एक-एक करके गंतव्य की ओर रवाना किया जा रहा है। उत्तर-मध्य रेलवे एनसीआर के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि एनसीआर क्षेत्र में किसी भी ट्रेन के साथ तोड़फोड़ की घटना की कोई सूचना नही हैं। उन्होंने बताया कि आधा दर्जन से अधिक ट्रेन को जगह-जगह रोका गया है और स्थिति सामन्य होने पर उन्हें गंतव्य की ओर रवाना किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि एनसीआर क्षेत्र में किसी भी ट्रेन को रद्द नहीं किया गया है। उत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि उत्तर रेलवे क्षेत्र में किसी ट्रेन में तोड़फोड़ की कोई खबर नही हैं। आंदोलन के कारण एक ट्रेन वाराणसी-पटना 03289 को रद्द किया गया है। उल्लेखनीय है कि सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया में आमूल-चूल परिवर्तन करते हुए तीनों सेनाओं में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना की मंगलवार को घोषणा की थी, जिसके तहत सैनिकों की भर्ती 4 साल की लघु अवधि के लिए संविदा आधार पर की जाएगी।