शिरोमणि अकाली दल अमृतसर के प्रधान Simranjit Mann ने Rajoana के पत्र का दिया जवाब, कहा- मुझे न बताए किसे सपोर्ट करना है और किसे नहीं

Spread the News

अमृतसर : शिरोमणि अकाली दल अमृतसर के प्रधान एवं संगरूर सीट से एमपी सीट के दावेदार सिमरनजीत सिंह मान ने आज गांव 6 जिले का दौरा किया एवं वहां लोगों से वोट की अपील की। इतने में एक नौजवान जिसको सिरोपा डालकर सम्मानित किया गया था उसका सिरोपा गले में से निकाल कर दस्तार सजा दिया। इस पर सिमरजीत मान ने कहा कि मैंने दीप सिद्धू को भी इसी तरह से दस्तार बांधी थी।

जेल में बंद राजोआना द्वारा चिट्ठी लिखकर मान को अपनी बहन कमलजीत की हिमायत करने पर सिमरनजीत मान ने कहा कि राजोआना खुद सुखबीर बादल की बोली बोलते हैं इसलिए उन्हें न बताया जाए कि उन्हें किसे सपोर्ट करना है एवं किसे नहीं।

वहीं उन्होंने कहा कि बंदी सिखों की बात सिर्फ सिमरजीत मान करते रहे हैं अगर अकाली दल और सुखबीर बादल को उनकी इतनी चिंता होती तो वह दोनों मियां बीवी एमपी रहे हैं वही करवा लेते वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के द्वारा उनके कृपाण वाले बयान पर बोलते हुए सिमरजीत मान ने कहा कि वह इस पर लीगल एक्शन लेंगे क्योंकि कृपाण धारण करना एक सिख का अधिकार है जिससे उन्हें कोई वंचित नहीं कर सकता।

वही जिस नौजवान को सिमरनजीत मान ने दस्तार बांधी थी उस नौजवान का कहना है कि बसपा सदस्य में जाने से कोई सिख नहीं बनता इसके लिए सोच होनी जरूरी है मैं पहले उस सोच को अपना लूंगा उसके बाद ही दस्तार को अपने सर पर सजाऊंगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हां यह जरूर होगा कि मैं जब भी सिमरनजीत मान को मिलूंगा यही सरोपा अपने सिर पर दस्तार की तरह धारण करके मिलूंगा।