अमेरिकाः अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से पहले सैकड़ों लोग वाशिंगटन में योग सत्र में हुए शामिल

Spread the News

वाशिंगटनः अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) से पहले यहां प्रतिष्ठित ‘वाशिंगटन मोन्यूमेंट’ पर भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित योग सत्र में सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। अमेरिकी प्रशासन, संसद, उद्योग, राजनयिक कोर, मीडिया और प्रवासी भारतीय सहित विभिन्न क्षेत्रों से लोगों ने शनिवार को आयोजित इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। यूएस नेशनल साइंस फाउंडेशन (एनएसएफ) के निदेशक डॉ सेतुरमण पंचनाथन ने कहा कि योग दुनिया को भारत का सबसे बड़ा उपहार है। कई प्रवासियों और अमेरिकी संगठनों के सहयोग से दूतावास द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में डॉ पंचनाथन को सम्मानित अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।

एनएसएफ के निदेशक ने कहा कि योग सभी भौगोलिक क्षेत्रों और सीमाओं को एकजुट करने वाली एक मजबूत शक्ति है। समारोह के तहत एक सामान्य योग प्रोटोकॉल सत्र आयोजित किया गया, जिसमें उपस्थित लोगों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा कि योग शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक और बौद्धिक कल्याण को बढ़ाने वाला है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बाद के उभरते परिदृश्य में योग लचीलापन, स्वास्थ्य, एकजुटता, करुणा और प्रसन्ना हासिल करने में मदद कर रहा है। संधू ने कहा कि योग लोगों के बीच महत्वपूर्ण आपसी जुड़ाव और संपर्क को गहरा कर रहा है, जो भारत-अमेरिका द्विपक्षीय साझेदारी के मूल में है।