Agnipath Protest: Rahul Gandhi ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- देश की इस हालत के ज़िम्मेदार केवल प्रधानमंत्री

Spread the News

नई दिल्लीः कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर अग्निपथ योजना पर सरकार को घेरा है। राहुल ने ट्वीट कर कहा कि बार-बार नौकरी की झूठी उम्मीद दे कर, प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं को बेरोज़गारी के ‘अग्निपथ’ पर चलने के लिए मजबूर किया है। 8 सालों में, 16 करोड़ नौकरियां देनी थीं मगर युवाओं को मिला सिर्फ़ पकोड़े तलने का ज्ञान। देश की इस हालत के ज़िम्मेदार केवल प्रधानमंत्री हैं।

बता दें कि, अग्निपथ योजना पर कांग्रेस सरकार पर दबाब बनाने में जुटी हैं। कांग्रेस के तमाम वरिष्ठ नेता इस योजना के विरोध में सत्याग्रह पर जंतर-मंतर में बैठे है। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी इस कांग्रेस के सत्यग्रह में शामिल होंगे। इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी युवाओं से अपील की है कि वह युवाओं के साथ है । साथ ही उन्होंने अहिंसा, संयम व शांति के मार्ग पर चलकर सरकार के सामने आवाज उठाने की भी बात कही है।

देशभर में युवा इस योजना के खिलाफ सड़कों पर उतर आए हैं और कई शहरों व कस्बों से हिंसा की घटनाएं दर्ज की गई हैं। कांग्रेस सांसद, कार्य समिति के सदस्य व अन्य नेता ‘अग्निपथ’ योजना का विरोध कर रहे युवाओं के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए जंतर मंतर पर ‘सत्याग्रह’ करेंगे।

वहीं अग्निपरीक्षा योजना के तहत भर्ती होने वाले अग्निवीरों के लिए गृह मंत्रालय ने बड़ा फैसला लेते हुए अग्निवीरों को सीएपीएफ और असम राइफल्स में 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया गया है। इसमें भर्ती के लिए अग्निवीरों को निर्धारित अधिकतम प्रवेश आयु सीमा में तीन साल की छूट देने का फैसला किया है और अग्निपथ योजना के पहले बैच के लिए यह छूट 5 वर्ष होगी।

दूसरी ओर राजधानी दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के अकबर रोड स्थित आवास पर वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी.आर चौधरी और नौसेना प्रमुख एडमिरल आर. हरि कुमार सहित तीनों सेनाओं के अन्य वरिष्ठ कमांडर्स और डिपार्टमेंट आफ मिलिट्री अफेयर्स के अधिकारियों के साथ ‘अग्निपथ योजना’ की समीक्षा कर रहे हैं।