Ranji Trophy Final: एमपी के खिलाफ मुंबई 374 पर सिमटी, सरफराज खान ने लगाया शतक

Spread the News

बेंगलुरु: सरफराज खान की 134 रनों की शानदार पारी की वजह से रणजी ट्रॉफी फाइनल के दूसरे दिन गुरुवार को एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में मध्य प्रदेश के खिलाफ मुंबई ने 127.4 ओवर में 374 रन बनाए। मध्य प्रदेश के लिए, गौरव यादव ने 35.4 ओवरों में 4/106 विकेट लिए। पहले दिन चौकस रहने के बाद सरफराज दूसरे दिन मजबूती से डटे रहे और उन्होंने 243 गेंदों में 134 रनों की पारी खेली गई, जिसमें 13 चौके और दो छक्के शामिल थे, जिससे मुंबई एक मुश्किल स्थिति से उभरने में कामयाब रहा। 134 रनों की पारी के साथ सरफराज ने 2019/20 सीजन में 928 रन बनाने के बाद दूसरी बार रणजी ट्रॉफी सीजन में 900 से अधिक रन का आंकड़ा पार किया, ऐसा करने वाले अजय शर्मा और वसीम जाफर के बाद सिर्फ तीसरे बल्लेबाज बने।

पहले दिन 248/5 से आगे खेलते हुए मुंबई ने दिन की दूसरी गेंद पर शम्स मुलानी को खो दिया, जब तेज गेंदबाज गौरव यादव ने उन्हें एलबीडब्ल्यू कर दिया। गौरव और अनुभव अग्रवाल ने मुंबई पर दबाव बनाया। इस वजह से सरफराज अपने शॉट लेने में असमर्थ थे और लंबे समय तक 45 रन पर अटके रहे। जैसे ही बाएं हाथ के स्पिनर कुमार कार्तिकेय सिंह आक्रमण में आए, सरफराज ने मिड-विकेट पर स्वीप करके अपना अर्धशतक पूरा किया।

हालांकि, गौरव ने कोटियन को आउट किया और धवल कुलकर्णी ने अनुभव अग्रवाल की गेंद पर कीपर को कैच थमा बैठे, सरफराज ने गौरव के साथ मुकाबला जारी रखा। सरफराज ने 190 गेंदों में अपना शतक कार्तिकेय की गेंद पर शॉट लगाकर पूरा किया। थ्री-फिगर के निशान तक पहुंचने के बाद मुंबई कैंप और स्टेडियम में दर्शकों ने उनका तालियों की गड़गड़ाहट से अभिनंदन किया।

अपने शतक तक पहुंचने के बाद सरफराज ने कार्तिकेय पर हमला करना जारी रखा और उन्हें डीप मिड-विकेट पर छक्का जड़ा। तुषार देशपांडे ने भी कुछ अच्छे शॉट लगाए, जिससे मुंबई ने सत्र में 103 रन बनाए। लंच के बाद कुलकर्णी ने गौरव को आउट किया लेकिन सरफराज और मोहित अवस्थी ने लॉन्ग आफ पर सारंश जैन की गेंद पर छक्का लगाया और इसके बाद गौरव की गेंद पर एक चौका लगाया। फिर से बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में सरफराज की पारी समाप्त हो गई।

संक्षिप्त स्कोर :

मध्य प्रदेश के खिलाफ 127.4 ओवर में मुंबई 374/10 (सरफराज खान 134, यशस्वी जायसवाल 78, गौरव यादव 4/106, अनुभव अग्रवाल 3/81)।