सदन में अग्निपथ के खिलाफ लाया जाएगा प्रस्ताव: CM Mann बोले- जो कानून समझ ना आए वो बनने नहीं चाहिए, वहीं बचाव में उतरी BJP

Spread the News

चंडीगढ़: पंजाब विधानसभा की कार्यवाही का आज चौथा दिन है। सेशन की शुरूआत काफी हंगामे के साथ हुई। वहीं इस दौरान केंद्र की अग्निपथ योजना के खिलाफ भी मुद्दा उठाया गया। इस पर विरोध जताते हुए नेता प्रतिपक्ष प्रताप बाजवा ने कहा कि मुख्यमंत्री सीएम मान सदन में इस योजना के खिलाफ प्रस्ताव लेकर आएं। हम इसका सहयोग करेंगे। वहीं इसके जवाब में सीएम मान ने कहा कि मैं इस कानून के सख्त खिलाफ हूं। मैं तो बीजेपी के इस बयान पर शर्म महसूस कर रहा हूं जिसमें उन्होंने कहा था कि इन अग्निवीरों को हम बीजेपी दफ्तर में सेक्योरिटी गार्ड रख लेंगे। मैं भी प्रताप बाजवा से सहमत हूं और मैं साझा प्रस्ताव के हक में हूं। ऐसे कानून जो लोगों की समझ में ना आएं वह बनने ही नहीं चाहिए।

वहीं सदन में भारतीय जनता पार्टी इस योजना का बचाव करती हुई दिखाई दी। भाजपा पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने कहा कि इन लीडरों ने बताया कि इस योजना में क्या गलत है? यह योजना 17 साल के बच्चे को 12वीं करवाएगी और स्किल सिखाएगी उसके बाद तीनों सेनाओं में होने का मौका मिलेगा। इससे युवाओं को रोजगार के काबिल बनाया जाएगा। यह लीडर बस हाउस को गुमराह कर रहे हैं।