सरकारी बसों को लेकर विधानसभा में हंगामा, LoP Partap Bajwa ने उठाया सवाल- किस कानून के आधार पर पंजाब से अब दिल्ली एयरपोर्ट के लिए बसें की गई रवाना

Spread the News

चंडीगढ़ : पंजाब विधानसभा सत्र का आज 5वां दिन है। प्रश्नकाल के दौरान ट्रांसपोर्ट मंत्री लालजीत भुल्लर ने कहा कि हमने पंजाब से दिल्ली एयरपोर्ट के लिए बसें चलाई। इस पर विपक्ष के नेता प्रताप बाजवा ने कहा कि पहले उनकी ही दिल्ली सरकार ने बसें नहीं चलने दी। इससे पंजाब को 25 करोड़ का घाटा हुआ। वहीं पंजाबियों को महंगा किराया देने से 75 से 80 करोड़ का नुकसान हुआ।

पूर्व ट्रांसपोर्ट मंत्री राजा वड़िंग ने कहा कि उनकी सरकार में 13 बार चिट्‌ठी लिखी गई। एयरपोर्ट अथॉरिटी को भी चिट्‌ठी लिखी थी। केंद्रीय उड्‌डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि दिल्ली गवर्नमेंट चाहे तो बसें चलाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि मंत्री जिस सुप्रीम कोर्ट ऑर्डर या दूसरी पाबंदी की बात कर रहे हैं, उसका रिकॉर्ड दे सकते हैं।

परिवहन मंत्री लालजीत भुल्लर ने कहा कि पिछली सरकार ने न तो दिल्ली सरकार से परमिट लिए और न रूट एक्शटेंशन के लिए मंजूरी ली। उन्होंने उलटा सवाल किया कि राजा वड़िंग ने जिन प्राइवेट बसों को पक्के तौर पर बंद करने को कहा था, वह अब कहां हैं?। इसको लेकर सदन में जमकर हंगामा हुआ।