Mukesh Agnihotri के समर्थन में युवा Congress ने CM को दिखाए काले झंडे

Spread the News

ऊना : प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री के बीच में चल रही जुबानी जंग अब सड़कों पर भी उतर आई है। मुकेश अग्निहोत्री के समर्थन में युवा कांग्रेस ने अपने ऐलान के मुताबिक इंदिरा मैदान के समीप मुख्यमंत्री के काफिले को काले झंडे दिखाए हालांकि पुलिस कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे पर युवा कांग्रेस के कार्यकत्तार्ओं ने सड़क के किनारे खड़े हो काले झंडे दिखा दिए।

इसी समय युवा मोर्चा के कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए और दोनों पक्षों के बीच नारेबाजी हो गई और मारपीट का मामला पहुंच गया, हालांकि इस दौरान मुख्यमंत्री का काफिला क्रॉस कर चुका था जिसके बाद दोनों पक्षों में खूब मारपीट हुई बताया जा रहा है कि युवा कांग्रेस के कुछ कार्यकत्तार्ओं को चोटें भी लगी हैं।

दोनों पक्षों में खूब नारेबाजी भी हुई हालांकि युवा कांग्रेस की संख्या कम थी जबकि युवा मोर्चा के काफी संख्या में नौजवान मौके पर उपस्थित हो गए थे। इस घटना के बाद तनाव पूर्ण माहौल हो गया काफी समय तक चंडीगढ़ मार्ग जाम हो गया जिसे खुलवाने के लिए प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने जाम खुलवाया हालांकि काफी देर तक दोनों पक्षों सड़क के किनारे डटे हुए थे और अपने अपने पक्ष में नारेबाजी कर रहे थे।

युवा कांग्रेस अध्यक्ष राघव व अभिनव के साथ हाथापाई

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के काफिले को काले झंडे दिखाने के बाद युवा कांग्रेस व युवा मोर्चा के बीच हाथापाई हुई इस हाथापाई में युवा कांग्रेस के अध्यक्ष राघव ठाकुर, युवा नेता अभिनव, तनुज, अखिल अग्निहोत्री के साथ मारपीट हुई, फिलहाल दोनों पक्षों की ओर से कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है पर विवाद सड़क होकर आगे बढ़ गया है।

सतपाल सत्ती ने किया बीच-बचाव

वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सत्ती भी मौके पर पहुंच गए ,वह अपने घर को जा रहे थे, इस दौरान उन्होंने वाद विवाद होता देख गाड़ी को रोका और उन्होंने समझ बूझ के साथ सभी को समझाने का प्रयास किया और मामले को शांत करवाने के लिए युवा कार्यकत्तार्ओं को समझाया।

मुकेश व रायजादा ने की निंदा

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री व सदर के विधायक सतपाल रायजादा ने युवा कांग्रेस के कार्यकतार्ओं के साथ मारपीट करने की घटना की निंदा की है ।उन्होंने कहा कि लोकतंत्र है ओर लोकतंत्र में मुख्यमंत्री का अगर शांतिपूर्वक विरोध हो रहा है तो उसमें इस प्रकार से मारपीट करने का कोई मतलब नहीं बनता है ।उन्होंने कहा कि इस पर पुलिस और प्रशासन को कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हम युवा कांग्रेस के कार्यकतार्ओं के साथ खड़े हैं और कोई अन्याय नहीं होने दिया जाएगा।