Breaking: DGP VK Bhawra के आवेदन को CM Mann ने किया स्वीकार, 2 महीने की छुट्टी के लिए दी मंजूरी

Spread the News

चंडीगढ़: पंजाब डी.जी.पी. वी.के. भंवरा के केंद्र में डैपुटेशन पर जाने में अनिश्चितता के बीच 2 महीने की छुट्टी के लिए आवेदन को अब मुख्यमंत्री भगवंत मान ने स्वीकर कर लिया है। सीएम मान ने उन्हें छुट्टी के लिए मंजूरी दे दी है। डीजीपी वीके भंवरा 5 जुलाई से छुट्टी पर जा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर पंजाब को नया डीजीपी मिलने की खबरें भी तेज होती जा रही हैं। ऐसा अनुमान भी लगाया जा रहा है कि पंजाब सरकार डी.जी.पी. गौरव यादव कोकार्यकारी डी.जी.पी. नियुक्त कर सकती है। फिलहाल डी.जी.पी. जेल हरप्रीत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री के स्पैशलप्रिंसिपल सैक्रे टरी गौरव यादव इस रेस में सबसे आगे हैं, जबकि शरद सत्य चौहान और संजीव कालड़ा भी दावेदार हैं।

सूत्रों के मुताबिक सरकार गौरव यादव को कार्यवाहक डी.जी.पी. का अतिरिक्त कार्यभार सौंप सकती है। गौरव यादव इंटैलीजैंस चीफभी रह चुके हैं। नियमानुसार राज्य सरकार किसी भी डी.जी.पी. रैंक के अधिकारी को 6 महीने के लिए डी.जी.पी. नियुक्त कर सकती है। इस दौरान उसे 3 वरिष्ठ अधिकारियों का पैनल यूनियन पब्लिस सर्विस कमीशन (यू.पी.एस.सी.) को भेजना होगा।

गौरतलब है कि डी.जी.पी. भंवरा मोहाली मेंइंटैलीजैंस हैडक्वार्टर पर हमले और पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद विपक्ष के निशाने पर थे। मूसेवाला को मिल रही धमकियों की इंटैलीजैंसरिपोर्ट के बावजूद उनकी सुरक्षा में कटौती के लिए वह लगातार आलोचनाओं का शिकार रहे। राज्य में कानून और व्यवस्था की बदतर हो रहेहालात के लिए विपक्ष लगातार मान सरकार पर हमलावर रहा है। संगरूर उप चुनाव में आप की हार का बड़ा कारण कानून और व्यवस्था और मूसेवाला की हत्या को माना जा रहा है।