राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से निकलेगी 2022 में चुनावी जीत की राह

Spread the News

शिमला : हैदराबाद में भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक में चर्चा के बाद हिमाचल में 2022 में चुनावी जीत की राह निकलेगी। कार्यसमिति की बैठक के दूसरे दिन भाजपा का राष्ट्रीय नेतृत्व हिमाचल व गुजरात के मुख्यमंत्रियों व कार्यसमिति में उपस्थित पदाधिकारियों के साथ अलग से मंथन करेगा। भाजपा सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कार्यसमिति की बैठक में रविवार को प्रदेश सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं को लेकर प्रैजेंटेशन देंगे। वह फ्लैगशिप कार्यक्रमों पर हो रहे खर्च व इनके लाभार्थियों का आंकड़ा भी प्रस्तुत करेंगे। प्रदेश सरकार ने सहारा, हिम केयर, मुख्यमंत्री गृहिणी सुरक्षा योजना के साथ साथ कई अन्य प्रमुख योजनाओं को राज्य में शुरू किया है।

सामाजिक सुरक्षा योजना का दायरा सरकार ने बढ़ाया है। कामगार कल्याण बोर्ड के माध्यम से मिलने वाली छात्रवृत्ति व शैक्षणिक भत्ते में इजाफा किया गया है। करीब दो दर्जन से अधिक योजनाएं प्रदेश सरकार ने अपने बजट से प्रारंभ की हैं। इन तमाम योजनाओं को लेकर कार्यसमिति की बैठक में मुख्यमंत्री प्रस्तुति देंगे। मुख्यमंत्री की हैदराबाद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के अलावा अन्य पदाधिकारियों के साथ भी बैठक होनी है। कार्यसमिति की बैठक में प्रदेश भाजपा सुरेश कश्यप, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, प्रभारी अविनाश राय खन्ना, सह प्रभारी संजय टंडन और प्रदेश संगठन महामंत्री पवन राणा भाग ले रहे हैं।

हैदराबाद इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, 19 राज्यों के मुख्यमंत्री और भाजपा के अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए। कार्यकारिणी की बैठक में सुरेश कश्यप ने कहा कि हाल ही में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा व मणिपुर में हुए विधानसभा चुनावों, कुछ निकाय चुनावों, रामपुर, आजमगढ़ के लोकसभा उपचुनावों और त्रिपुरा के विधानसभा उपचुनावों में भाजपा को भारी जीत मिली है। उन्होंने कहा कि अभी पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है, आज पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था 6 फीसदी की दर से आगे बढ़ रही है। भारत की अर्थव्यवस्था 8.7 फीसदी की दर से आगे बढ़ रही है। यह मोदी सरकार की एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि बूथ को मजबूत करना बहुत जरूरी है। बूथ अध्यक्ष और बूथ कार्यकर्ताओं से संपर्क हमारे लिए बहुत जरूरी है। क्योंकि वे कार्यकर्ता हैं जो क्षेत्र में हमारी बात घर घर पहुंचा सकते हैं और अपनी बात सबके सामने रख सकते हैं।