छोटे लक्ष्य निर्धारित कर उसे पार करने का था लक्ष्य : Rishabh Pant

Spread the News

एजबेस्टनः इंग्लैंड के खिलाफ पुनर्निर्धारित पांचवें टेस्ट के लिए भारत के उप-कप्तान ऋषभ पंत ने अपने और रवींद्र जडेजा के बीच 222 रनों की विशाल साझेदारी का श्रेय छोटा लक्ष्य निर्धारित करने को दिया है। एक समय पहली पारी में भारतीय टीम पांच विकेट के नुकसान पर 95 रन पर थी। उसके बाद पंत और जडेजा ने पारी को संभाला। दोनों बल्लेबाजों ने शानदार पारी खेलते हुए एक के बाद एक शतक जड़े और टीम को मजबूत स्थिती में ला दिया।

पंत ने बीसीसीआई द्वारा साझा किए गए एक वीडियो में खुलासा किया, ‘‘हमने पारी को अच्छे से खेला। दोनों का ध्यान बस गेंद पर था, जिससे टीम के स्कोर को बढ़ाने में मदद मिल सके। हमने 98 रन के बाद पारी की शुरुआत की थी, जब हमने 150 का आंकड़ा पार किया तो हम 175 की बात कर रहे थे, जब 175 का आंकड़ा पार हुआ तो हमने 200 रन के आंकड़े को छूने की बात कही। हम दोनों का क्रीज पर अच्छा तालमेल रहा।’’

उन्होंने आगे बताया, कि ‘हम दोनों ने मुश्किल समय में छोटे-छोटे लक्ष्य को पार करते हुए अपना शतक भी जड़ा।’’ जडेजा ने बताया, कि ‘एक टेस्ट मैच में 2 से 3 चौके लगाकर बल्लेबाज बेफ्रिक हो जाते हैं, लेकिन यहां ऐसा नहीं था, हमने रनों को बढ़ाने के लिए गेंदबाजों पर दबाव डाला, क्योंकि गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की, जहां उन्होंने शुरुआती 5 विकेट जल्द ही झटक लिए। टीम के बाकि खिलाड़ियों ने शानदार प्रयास किया। बुमराह और शमी ने भी साङोदारी बनाने की कोशिश की अच्छी कोशिश की, जहां बुमराह ने एक ही ओवर में 29 रन बनाए।’’