International Kick Boxing Competition: दिल्ली के सुधीर ने बढ़ाया देश का मान, उज्बेकिस्तान में भारत के लिए जीता कांस्य पदक

Spread the News

नई दिल्ली: अंतराष्ट्रीय किक बॉक्सिंग प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके वाराणसी के सुधीर सक्सेना ने उज्बेकिस्तान के ताशकंद शहर में हुए किकबॉक्सिंग इंटरनेशनल ओपन टूर्नामेंट में भारत के लिए कांस्य पदक जीता है। सुधीर ने 91 किलो भार वर्ग मे कांस्य जीता। सुधीर की इस सफलता पर उनके घर परिवार में ख़ुशी का माहौल है।

इस सफलता पर वाको इंडिया किकबॉक्सिंग के प्रेजिडेंट संतोष अग्रवाल ने उन्हें बधाई दी है। सुधीर ने अभी अक्टूबर 2021 में इटली में हुई वर्ल्ड किकबॉक्सिंग चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मे तथा अभी तक आर्थिक तंगी और प्रायोजकों के अभाव के बावजूद अपनी कड़ी मेहनत और सच्ची लगन से विभिन्न देशों के खिलाड़ियों के साथ लोहा लेते हुए भारत के लिए 1 स्वर्ण, 2 रजत और 2 कांस्य पदक जीतना अपने आप में एक गौरवपूर्ण बात है तो आश्चर्यचकित कर देने वाली भी। आश्चर्यजनक इसलिए कि सरकार और प्रायोजकों के बिना खेल के प्रति इतना जुनून और देश का मान बढ़ाने का इतना समर्पण उदाहरण के तौर पर कम ही देखने सुनने में आता है।

अंतराष्ट्रीय खेल किक बॉक्सिंग जिसमें भारत की पहुंच आज तक दुर्लभ देखी गई है, ऐसी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में विश्व चैम्पियनशिप और एशियन चैंपियनशिप के सदस्य सुधीर सक्सेना भारत के लिए विश्व स्तर पर एक गौरवपूर्ण भूमिका के किरदार हैं। 12 राष्ट्रीय पदकों और चालीस से अधिक राज्य स्तर के विभिन्न पदकों के विजेता रहे सुधीर आज भी खेल के प्रति लगनशील और देश के लिए समर्पित उदाहरण के रूप में संघर्षरत हैं। विभिन्न देशों में भारत का परचम लहराते आए सुधीर के बारे में भारत के किक बॉक्सिंग के कोच नीलेश सेलर का कहना है कि सुधीर के हाथों में बचपन से ही भरपूर और गजब की ताकत बरकरार है और उनके हाथों के पंचो का कोई जवाब नहीं।