ऐसा करने से जल्द ही बढ़ेगी आंखों की रोशनी, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

Spread the News

आंखें हमारी शरीर का सबसे अहम हिस्सा होती है। इनकी देखभाल करना भी बहुत आवश्यक होता है। हमारी आंखें हमारी अंदर की सुंदरता को दर्ष्टि है। लेकिन आज के समय में बच्चों के बहुत अधिक टीवी और मोबाइल फ़ोन्स देखने से आंखें बहुत जल्दी कमज़ोर हो जाती है जिसके कारण उनकी आंखों की रौशनी कम होने लगती है और चश्मा लगाना पढ़ता है। आज हम आपको कुछ चश्मा हटाने के टिप्स के बारे में बताने जा रहे है, जो आपके बहुत काम आने वाले है। तो आइए जानते है :

चश्मा लगने के कारण
. आंखों की देखभाल ना करना
. खाने में पोषक तत्वों की कमी
. आनुवांशिक
. विटामिन ए की कमी
. घंटों टी वी या कंप्यूटर स्क्रीन पर काम करना

चश्मा उतारने व आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए आज हम आपको 2 देसी व कारगर उपाय बताते हैं।
1. गाय का घी और काली मिर्च का करें सेवन
इसके लिए 1/2 छोटा चम्मच गाय का घी पिघलाकर उसमें 1/2 छोटा चम्मच पीसी काली मिर्च मिलाएं। सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। इसके बाद 1 गिलास गुनगुना पानी या दूध पीएं। रोजाना इसका सेवन करने से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ने में मदद मिलेगी। आपको 7 दिनों में ही फर्क महसूस होगा।

गाय का देसी खाने के फायदे
इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड, विटामिन ए आदि पोषक तत्व, एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण होते हैं। इसका सेवन करने से इम्यूनिटी बूस्ट होकर दिनभर एनर्जेटिक महसूस होगा। आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी गाय का देसी घी फायदेमंद माना गया है। इससे बाल भी जड़ों से पोषित होकर सुंदर, घने, मुलायम व काले होंगे।

काली मिर्च खाने के फायदे
काली मिर्च पोषक तत्वों, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल आदि गुणों से भरपूर होती है। इसका सेवन करने से खाने का स्वाद बढ़ने के साथ इम्यूनिटी तेज होती है। इससे बीमारियों व संक्रमण की चपेट में आने का खतरा कम रहता है। इसके साथ ही आंखों की रोशनी बढ़ने में मदद मिलती है। इससे दिमाग भी तेज होता है। एक्सपर्ट अनुसार, डेली डाइट में 4-5 काली मिर्च का सेवन जरूर करना चाहिए।

2. सरसों या तिल के तेल से करें पैरों की मालिश
सोने से पहले सरसों या तिल के तेल से पैरों के तलवों पर लगाएं। इससे 2-3 मिनट तक सर्कुलर मोशन में मसाज करें। अगली सुबह नहा लें या गुनगुने पानी से इसे साफ कर लें। रात को ही पैरों की मसाज करें। दिन के समय पैरों पर तेल लगाने से गिरने का खतरा हो सकता है। इस उपाय को लगातार 1 हफ्ता करने से ही आपको फर्क महसूस होगा। इससे आंखों की रोशनी बढ़ने के साथ इससे जुड़ी परेशानियां होने का खतरा कम रहेगा।