मरीजों को नहीं करना चाहिए नाशपाती का अधिक सेवन, बढ़ सकती है स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं

Spread the News

फलों में पाए जाने वाले पोषक तत्व स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। डॉक्टर्स भी हर रोज़ फल का सेवन करने की सलाह देते है। लेकिन कभी कभी कुछ फलों सेवन भी हमारे लिए नुकसान का कारण बन सकता है। इसी में से एक है नाशपाती। आपको बता दे के नाशपाती का अधिक सेवन हमें कई समस्याओं का सामना करना पढ़ सकता है।

सर्दी होने पर
मौसम में बदलाव के कारण वायरल इंफेक्शन भी बहुत जल्दी होने लगती हैं। सर्दी, खांसी, बुखार, जुकाम जैसी समस्याएं होने लगती हैं। यदि आप भी इन बीमारियों से जुझ रहे हैं तो नाशपाती का सेवन न करें। नाशपाती की तासीर ठंडी होती है। इसका सेवन करने से आपकी समस्याएं और भी बढ़ सकती है। इसलिए सर्दी, खांसी होने पर इसका सेवन न करें।

पेट संबंधी समस्याएं
पाचन संबंधी समस्याओं में भी नाशपाती का सेवन नहीं करना चाहिए। इसकी तासीर ठंडी होती है, जो पाचन तंत्र को प्रभावित करती है। पाचन खराब होने के कारण आपको इसे पचाने में अधिक समय लगता है, जिसके कारण आपको पेट में ऐंठन, गैस, ब्लोटिंग जैसी परेशानियां हो सकती हैं।

वजन कम करने में
नाशपाती में कैलोरी की मात्रा बहुत ही कम पाई जाती है। यह वजन घटाने में फायदेमंद हैं, किंतु यदि आप इसका सेवन अधिक मात्रा में करते हैं तो आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ सकती है। इसलिए वजन घटाने के चक्कर में इसका अधिक सेवन न करें।

हाई ब्लड प्रेशर
ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए नाशपाती बहुत ही फायदेमंद होती है, लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए हानिकारक हो सकता है। आप सीमित मात्रा में ही इसका सेवन करें। यदि हाई ब्लड प्रेशर वाले मरीज ज्यादा नाशपाती का सेवन करते हैं तो आपको हार्ट रेट बढ़ना, चक्कर, कमजोरी, बेहोशी और सांस संबंधी परेशानियां हो सकती हैं।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स?
एक्सपर्ट्स के अनुसार, आप नाशपाती का सेवन ज्यादा न करें। यदि आप नाशपाती से स्वास्थ्य लाभों का फायदा लेना चाहते हैं तो कम मात्रा में ही इसका सेवन करें।