खेल मंत्रालय ने योजनाओं, पुरस्कारों के लिए Online Portal किया लांच : Anurag Thakur

Spread the News

नई दिल्ली : योग्य खिलाड़ियों और पूर्व खिलाड़ियों को अपने पुरस्कार और बकाया राशि हासिल करने के लिए राष्ट्रीय महासंघ और सरकारी दफ्तरों तक जाने की जरूरत नहीं होगी, क्योंकि खेल मंत्रालय ने अब इन प्रक्रियाओं को आनलाइन कर दिया है। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने अपने विभाग के लिए 3 बड़ी पहल लांच की, जिसमें खेल विभाग की योजनाओं के लिए आनलाइन पोर्टल, राष्ट्रीय खेल विकास कोष (एनएसडीएफ) की वेबसाइट और खिलाड़ियों के लिए नकद पुरस्कार, राष्ट्रीय कल्याण और पेंशन की संशोधित योजना शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि सक्रिय खिलाड़ी अब खेल विभाग के पोर्टल पर आनलाइन आवेदन कर सकते हैं, जबकि कॉरपोरेट, पीएसयू और व्यक्ति इसकी नई वेबसाइट पर एनएसडीफए कोष में योगदान कर सकते हैं। उन्होंने इस पहल को ‘क्रांतिकारी’ करार करते हुए कहा कि इससे पारर्दिशता लाने और जवाबदेही में मदद मिलेगी, इसके अलावा सरकार के ‘डिजिटल इंडिया मिशन’ को बढ़ावा मिलेगा।उन्होंने आगे कहा कि हम अपने खिलाड़ियों को सुविधाएं मुहैया कराना जारी रखेंगे, लेकिन अगर हम तकनीक को इन सुविधाओं के साथ जोड़ सकें तो यह काफी फायदेमंद हो सकता है।

उन्होंने कहा कि अगर किसी खिलाड़ी को अच्छे प्रदर्शन के बाद सरकार से पुरस्कार और मान्यता लेनी होती है तो उन्हें महासंघ या इससे पहले भारतीय खेल प्राधिकरण के जरिए जाना पड़ता था, जिसके बाद इसकी जांच होती और इससे खिलाड़ियों को अपनी बकाया राशि मिलने में करीब लगभग 2 साल लग जाते। उन्होंने कहा कि हमने इस प्रक्रिया को सरल और अधिक पारदर्शी बना दिया है।