अब विधायकों के यात्रा भत्ता में होगी कटौती, विधानसभा एक मीटिंग एक TA का फार्मूला कर सकती है लागू

Spread the News

चंडीगढ़ : पंजाब विधानसभा अब विधायकों के यात्रा भत्ता (Travelling Allowance) में कटौती करने की तैयारी कर रही है। इसके लिए विधानसभा एक मीटिंग एक TA का फार्मूला लागू कर सकती है जिसपर विचार किया जा रहा है।

आपको बता दें कि विधानसभा में कुल 15 कमेटियां है जिनके मेंबर वो विधायक है जिन्हें किसी भी तरह का कोई कैबिनेट रैंक नहीं मिला है। इन कमेटियों की मीटिंग हर सप्ताह मंगलवार एवं शुक्रवार को होती है। मीटिंग में आने वाले विधायकों (मेंबरों) को प्रति दिन के हिसाब से 1500 रुपये यात्रा भत्ता दिया जाता है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एक विधायक जो दूरदराज के विधानसभा हलकों से संबंध रखते हैं उन्हें अगर मीटिंग में शामिल होना है तो 1 दिन पहले अपने घर से चलना पड़ता है ऐसे में जिस दिन घर से चले उस दिन का यात्रा भत्ता, जिस दिन मीटिंग में शामिल हुए उस दिन का यात्रा भत्ता एवं मीटिंग के बाद अगले दिन घर पहुंचे उस अगले दिन का यात्रा भत्ता मिलता है। यानी एक मीटिंग के लिये विधायको को 4500 यात्रा भत्ता दिया जाता है। ऐसे में सप्ताह में 2 दिन मीटिंग में शामिल होने पर विधायकों को 6 दिन का यानी 9000 रुपये यात्रा भत्ता दिया जाता है। इसी 6 दिन के यात्रा भत्ता में कटौती कर दो दिन का करने पर विधानसभा विचार कर रही है ।