गैंगस्टर Goldy Brar के बड़े खुलासे, Moosewala पर समझौते के लिए 2 करोड़ का Offer देने का आरोप, कहा-Sidhu ने कई घर उजाड़े

Spread the News

चंडीगढ़: सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में आए दिन बड़े खुलासे हो रहे हैं। पुलिस जहां शूटरों को काबू कर पूछताछ कर रही है, वहीं अब केस में नया मोड़ आया है। दरअसल, हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले गैंगस्टर गोल्डी बराड़ की पहली बार एक वीडियो सामने आई है। एक निजी न्यूज चैनल में भेजी वीडियो में गोल्डी बराड़ मूसेवाला की हत्या के बारे में बोल रहा है। इस वीडियो में वह कहता दिखाई दिया कि हमें मूसेवाला के कत्ल का कोई अफसोस नहीं।

वीडियो में गैंगस्टर कहता दिखाई दिया कि ”विक्की मिड्‌डूखेड़ा के कत्ल के बाद चुनाव के दौरान मूसेवाला ने हमें 2 करोड़ की ऑफर की थी। मुक्तसर के गांव भंगचिड़ी के कुछ लड़के थे जो 24 घंटे उसके साथ रहते थे। उनके जरिए ही यह ऑफर दी गई। मुझे कहा गया कि रुपए लेने के बाद गुरुद्वारा साहिब जाकर कसम खा लो कि उसके बाद मूसेवाला को कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। हमने भाई के खून का बदला लेना था, इसलिए कहकर उसे मारा।’

‘जब दीप सिद्धू का संस्कार हो रहा था तब पूरा पंजाब गम में डूबा हुआ था लेकिन मूसेवाला ने अखाड़ा लगा रखा था। वहां वह शराब पीकर नाच रहे थे। सबने इसका विरोध भी किया। हालांकि अब लोग यह सब बातें भूल गए। दीप सिद्धू के साथ मूसेवाला की फोटो क्यों लगाई जा रही हैं। जीते जी 95% लोग उसे गालियां निकालते थे। मौत के बाद अचानक सब उसके समर्थन में आ गए।’

गोल्डी बराड़ ने आगे कहा कि ‘मूसेवाला तुपाक की बात करता था। तुपाक के साथ किसी ने पुलिस देखी। वह सिक्योरिटी में नहीं घूमता था। मूसेवाला सिक्योरिटी में घूमता था। मूसेवाला कभी पुलिस अफसरों तो कभी नेताओं के पैरों में गिरता था कि मुझे सिक्योरिटी दे दो।’ ‘मेरा नाम मूसेवाला से जोड़ा गया। हम पहले भी इसकी जिम्मेदारी ले चुके हैं। हमें मूसेवाला के कत्ल का कोई अफसोस नहीं है। हमारे भाईयों का नुकसान हुआ था। 2 भाईयों के कत्ल में अप्रत्यक्ष तरीके से इसका हाथ था। उसने अपने गानों वाली इमेज को सही साबित करने के लिए यह सब किया। सिद्धू का 2 भाईयों के कत्ल में हाथ था। इसकी गलतियां भूलने लायक नहीं थी। हमने न्याय का बहुत इंतजार किया लेकिन कुछ नहीं हुआ। हमारे पास कोई दूसरा ऑप्शन नहीं था। जो ऑप्शन था, वह हमने कर दिया।’

‘हमने हथियार उठाए और बदला ले लिया। मूसेवाला को जीते जी लोग गालियां देते थे। 95% लोग उसके विरोधी थे। वीडियो बनाने का मकसद यह है कि हमें जितना मर्जी बुरा कहो, हमें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है। हम बुरे ही ठीक हैं। दुख इस बात का है कि मरने के बाद लोग सिद्धू मूसेवाला को सच्चा कह रहे हैं। उसके घर वालों की इमोशनल वीडियो आई, लोग उसके पक्ष में खड़े हो गए। पावरफुल लोगों के कसूर सामने नहीं आते। सिद्धू को सिख शहीद और कौमी योद्धा करार देना गलत है। मूसेवाला उसका हकदार नहीं है।’

बता दें कि गैंगस्टर गोल्डी बराड़ इस समय कनाडा में है। सूत्रों के अनुसार पंजाब और दिल्ली पुलिस ने इस वीडियो में गोल्डी बराड़ के कनाडा में होने की ही पुष्टि की है।