Barnala में Trident की सभी इकाईयां बंद करने की तैयारी में Company, लोग बोले- हजारों परिवार हो जाएंगे बेरोजगार, सरकार दे ध्यान

Spread the News

बरनाला: एक तरफ जहां किसान संगठनों की तरफ से ट्राईडेंट फैक्ट्री के समक्ष पक्का धरना लगा रखा है तो वहीं अब शहर ही नहीं बल्कि पंजाब के लिए बुरी खबर निकलकर सामने आ रही है। दरअसल देश की नामवर टेक्सटाईल कंपनी ट्राईडेंट के संस्थापक पद्मश्री राजिंदर गुप्ता बरनाला से फैक्ट्री की सभी इकाईयों को बंद करने का मन बना चुके हैं। इस खबर के शहर में फैलते ही हर तरफ हाहाकार मच गई है। यहां तक की ट्राईडेंट के दो से तीन यूनिट तो बंद भी हो चुके हैं जबकि संघेडा यूनिट को खाली कर दिया है। संघेडा यूनिट में काम करने वाले सभी वर्करों, अधिकारियों, मुलाजिमों, युवतियों को घर भेज दिया है। जो युवा-युवती हास्टल में रह रहे थे उन्हें भी हा्स्टल खाली करवा घरों को भेज दिया है। इसके बाद बरनाला में ही नहीं बलिक पंजाब में हाहाकार मच गयी है। फैक्ट्री बंद की खबर ने सभी को सकते में डाल दिया है।

बताते चलें कि ट्राईडेंट के बरनाला में दो बडी फैक्ट्री है। पहली धौला तो दूसरी संघेडा जहां 25 हजार के करीब वर्कर काम कर अपने परिवार का पालन पोषण कर रहे हैं। फैक्ट्री बंद की खबर ने सभी मुलाजिमों के सिर गहरा संकट खडा कर दिया है। सभी मुलाजिम व उनके परिवार अब बेरोजगार हो जाएंगे या फिर उन्हें नौकरी मिलेगी ये चिंता का विषय है, लेकिन फिलहाल 25 जुलाई तक धौला व संघेडा की फैक्ट्रियों को पूर्ण तौर पर बंद कर दिया है। 25 जुलाई के बाद पद्मश्री डा.राजिंदर गुप्ता अपना फैसला रखेंगे की वह फैक्ट्री को बरनाला से पलायन करेंगे या फिर दोबारा से फैक्ट्री को शुरू करेंगे। इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि ट्राईडेंट ने अपनी फैक्ट्री बंद कर दी हो। इसका मुख्य कारण किसान संगठनों का विरोध जताया जा रहा है। किसान संगठन पिछले काफी समय से ट्राईडेंट के खिलाफ कारवाई की मांग कर रहे हैं। प्रदूषण को लेकर किसान संगठन पिछले तीन दिनों से फैक्ट्री के समक्ष धरना लगाकर बैठे है जिसका सरकार को भी कोई असर नहीं है।

शहरवासियों के साथ-साथ फैक्ट्री मुलाजिमों की सरकार से अपील, फैक्ट्री बंद होने से रोके सरकार

वहीं ट्राईडेंट फैक्ट्री बंद होने की खबर से फैक्ट्री में काम करने वाले हजारों वर्कर भी मायूस है। कुछ फैक्ट्री मुलाजिमों ने सीएम भगवंत मान को पत्र लिखकर उनसे फैक्ट्री को लेकर कारगार कदम उठाने की मांग की है। वह जल्द ही सीएम से अपील की है कि वह फैक्ट्री के संस्थापक पद्मश्री राजिंदर गुप्ता से बातचीत कर समस्या का हल करें। अगर फैक्ट्री बंद हुई तो हजारों परिवार बेरोजगार हो जाएंगे, क्योंकि ट्राईडेंट से पंजाब की आर्थिक स्थिती जो मजबूत हुई है वह पिछड़ जाएगी। इसके अलावा मुलाजिमों ने ट्राईडेंट खिलाफ धरना दे रहे लोगों पर भी एक्शन लेने की मांग की है और अपील की है कि सरकार इस पर तुरंत ध्यान दें और साथ ही सभी ने मिलकर पद्मश्री राजिंदर गुप्ता से फैक्ट्री को बंद ना करने का भी अनुरोध किया है।

शहरवासी बोले बातचीत से निकल सकता है हर समस्या का हल, फैक्ट्री बंद हुई तो सभी तरह के धंंधे हो जाएंगे चौपट

वहीं शहर में ट्राईडेंट फैक्ट्री के बंद होने की खबर ने सभी को गहरी चिंता में डाल दिया है। शहरवासियों ने कहा कि फैक्ट्री बंद हुई तो बरनाला जिला से हर तरह के धंधे चौपट हो जाएंगे। क्योंकि इस फैक्ट्री में काम करने वाले हजारों वर्कर बाजारों में शापिंग करते हैं लेकिन सभी बेरोजगार हो जाएंगे। ट्राईडेंट का नाम आज देश विदेश में चमक रहा है और ऐसे में बरनाला का नाम भी देश विदेश में खराब होगा। हजारों वर्कर बेरोजगार होने से बरनाला जिला भी पिछड जाएगा और साथ ही पंजाब की अर्थव्यवस्था को भी भारी झटका लगेगा। शहरवासियों ने अपील की कि बातचीत से सभी समस्याओं का हल निकल सकता है, इसलिए सरकार तुरंत बातचीत से समस्या हल करे और शहरवासियों ने पद्मश्री राजिंदर गुप्ता से भी फैक्ट्री को बंद ना करने की अपील की है।