100 टेस्ट खेलने वाले छठे श्रीलंकाई बने Angelo Mathews, विशेष कैप देकर किया गया सम्मानित

Spread the News

गॉल: अनुभवी एंजेलो मैथ्यूज पाकिस्तान के खिलाफ दूसरे और अंतिम मैच में 100 टेस्ट मैच खेलने वाले छठे श्रीलंकाई क्रिकेटर बन गए। 35 वर्षीय खिलाड़ी ने इस अवसर पर गेंदबाजी कोच चमिंडा वास से एक विशेष कैप प्राप्त की। दिलचस्प बात यह है कि मैथ्यूज और वास दोनों एक ही स्कूल में पढ़े हैं और वास के बाद मैथ्यूज ने 100 टेस्ट पूरे कर लिए हैं।

श्रीलंका क्रिकेट ने तस्वीरों के साथ ट्वीट किया, ‘‘एंजेलो मैथ्यूज को अपने 100वां टेस्ट मैच पर उन्हें विशेष कैप देकर सम्मानित किया गया।’’ मैथ्यूज से पहले श्रीलंका के पांच खिलाड़ी महेला जयवर्धने (149 मैच), कुमार संगकारा (134), मुथैया मुरलीधरन (133), चमिंडा वास (111), सनथ जयसूर्या (110) ने देश के लिए 100 से अधिक टेस्ट खेले हैं। 2009 में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले और 7,000 टेस्ट रन की कगार पर खड़े मैथ्यूज लाल गेंद वाले क्रिकेट में 10,000 रन बनाना चाहते हैं।

मैथ्यूज ने कहा, ‘‘टेस्ट में 10,000 रन बनाना शानदार होगा। बहुत से लोगों ने ऐसा नहीं किया है और यह कुछ ऐसा है जिसे मैं हासिल करना चाहता हूं।’’ उनकी प्रेरणा के बारे में पूछे जाने पर मैथ्यूज ने इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का नाम लिया, जिन्होंने हाल ही में बेन स्टोक्स की कप्तानी में इंग्लैंड टेस्ट टीम में वापसी की थी।

उन्होंने कहा, ‘‘जिमी एंडरसन मेरी प्रेरणा है। 40 साल की उम्र में, वह अभी भी फिट है और खेल रहे हैं। वह अपने खेल को कुछ और वर्षों के लिए बढ़ाना चाहते हंै। मेरे पास अभी भी कुछ और साल बाकी हैं। उम्र सिर्फ एक संख्या है और मैं अपनी फिटनेस पर काम करूंगा।’’