बिना बिल का माल बेचने वाले कैलाश बर्तन भंडार पर GST का छापा

Spread the News

जालंधर: माल एवं सेवा कर जीएसटी विभाग जालंधर दो की दो टीमों ने आज चौक सूदां स्थित बर्तन कारोबारी कैलाश बर्तन भंडार और कैलाश मैटल कंपनी में एक साथ छापेमारी की । बताया जाता है कि दोनों फर्मों की 6-6 करोड़ रु पए की टर्नओवर है मगर विभाग को शिकायतें मिल रही थीं कि दोनों फर्में बिना बिल के ही माल बेच रही हैं और पीतल के स्क्रैप की भी ट्रेडिंग कर रही हैं। बिलिंग में भी अनियमितता बरती जा रही है। चौक सूदां स्थित बर्तन बाजार बहुत ही तंग बाजार है, ऐसे में कारोबारियों को लगता था कि जीएसटी की टीम यहां कभी आएगी ही नहीं मगर जालंधर 2 की असिस्टैंट कमिश्नर शुभि आंगरा ने अब जिस तरह से टैक्स चोरी करने वालों पर शिकंजा कसना शुरू किया है उससे स्पष्ट है कि जालंधर-2 की सीमा में आने वाले किसी भी टैक्स चोरी करने वाले को अब विभाग छोड़ने वाला नहीं है।

कैलाश बर्तन और कैलाश मैटल पर जांच करने वाली टीम में स्टेट टैक्स ऑफिसर पवन कुमार, धर्मेंद्र और स्टेट टैक्स ऑफिसर महेश गोयल शामिल थजबकि इनका सहयोग कर रहे थे इंस्पैक्टर शिवदयाल, रिम्पी, कावेरी शर्मा, शिवदयाल, सिमरनप्रीत और इंद्रजीत सिंह। दोनों फर्मों में करीब 3 घंटे तक सर्च चली। इस दौरान विभाग की टीम ने दो मोबाइल कब्जे में लिए। इसके अलावा स्टॉक की जांच करके उसे भी वैरीफाई किया और कुछ संदिग्ध दस्तावेज भी अपने साथ ले गए। असिस्टैंट कमिश्नर शुभि आंगरा ने बताया कि स्टेट टैक्स कमिश्नर के.के. यादव और जालंधर जोन के डिप्टी कमिश्नर ऑफ स्टेट टैक्स परमजीत सिंह के दिशा-निर्देश पर यह जांच अभियान चलाया जा रहा है ताकि सरकार का टैक्स चोरी करने वालों को सही काम करने के लिए मजबूर और प्रेरित किया जा सके।